share--v1

Farmers Protest: किसानों का दिल्ली कूच, घर से निकलने से पहले जान लें ट्रैफिक एडवाइजरी

Delhi Police Traffic Advisory: दिल्ली पुलिस ने किसानों के विरोध-प्रदर्शन के मद्देनजर ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की है. इसमें कई रूटों को डाइवर्ट करने की भी जानकारी दी है. यात्रियों से अपील की गई है कि वे यात्रा करने से पहले एक बार एडवाजरी का पालन करें.

auth-image
India Daily Live
फॉलो करें:

Delhi Police Traffic Advisory: हरियाणा और पंजाब के प्रदर्शनकारी किसान सुबह 10 बजे दिल्ली की ओर मार्च शुरू करने वाले हैं. दिल्ली चलो मार्च अभियान के तहत करीब 200 से अधिक किसान संघ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानून बनाने सहित विभिन्‍न मांगों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ मार्च करेंगे. किसानों के विरोध-प्रदर्शन के मद्देनजर दिल्ली यातायात पुलिस ने एडवाइजरी जारी की है. यात्रियों को सलाह दी गई है कि वे अपनी यात्रा की योजना बनाने से पहले सलाह का पालन करें और इस दौरान सीमाओं पर यात्रा करने से बचें.

जारी किये गए एडवाइजरी के मुताबिक सिंघू बॉर्डर पर 12 फरवरी से कमर्शियल वाहनों के लिए और 13 फरवरी से सभी प्रकार के वाहनों के लिए यातायात डायवर्जन लगाया गया है. वहीं 12 फरवरी से हरियाणा के साथ सिंघू बॉर्डर पर यातायात डायवर्जन को प्रभावी किया गया है. गाजीपुर बॉर्डर के रास्ते दिल्ली से यूपी जाने वाले यात्रियों को भी वैकल्पिक मार्ग चुनने की अपील की गई है. 

दिल्ली यातायात पुलिस की एडवाइजरी

1- गाजीपुर सीमा से गाजियाबाद जाने वाले वाहन अक्षरधाम मंदिर के सामने से पुश्ता रोड या पटपड़गंज रोड/मदर डेयरी रोड या चौधरी चरण सिंह मार्ग आइएसबीटी आनंद विहार और यूपी गाजियाबाद में महाराजपुर या अप्सरा सीमा से बाहर निकल सकेंगे.

2- अंतरराज्यीय बसें जो आम तौर पर एनएच -44 से होकर सोनीपत, पानीपत और करनाल जैसे उत्तरी शहरों की ओर जाती हैं, उन्हें आईएसबीटी, मजनू का टीला, सिग्नेचर ब्रिज, खजूरी चौक, लोनी बॉर्डर और खेकड़ा के माध्यम से केएमपी एक्सप्रेसवे वाले वैकल्पिक रास्तों से फिर से भेजा जाएगा.

3- एनएच-44 डीएसआईआईडीसी कट से हरीशचंद्र अस्पताल रेड लाइट से सेक्टर-ए/5 रेड लाइट से रामदेव चौक तक जा सकते हैं. बहादुरगढ़, रोहतक की ओर जाने वाले वाहन चालक डीएसआईआईडीसी कट से बवाना रोड की ओर कंझावला टी-प्वाइंट से कंझावला चौक तक डा. साहिब सिंह वर्मा रोड से झंडा चौक/घेवरा तक जा सकते हैं और सांवधा गांव के रास्ते निजामपुर सीमा तक पहुंच सकते हैं. 

4- एनएच-44 के माध्यम से उत्तरी शहरों के लिए जाने वाले भारी माल वाहनों (एचजीवी) को निकास संख्या लेने की सलाह दी गई है. एनएच-44 के माध्यम से सोनीपत पानीपत, या करनाल की ओर जाने वाले कारों और हल्के माल वाहनों (एलजीवी) को निकास 1 (एनएच-44) अलीपुर कट से शनि मंदिर, पल्ला बख्तावरपुर रोड वाई-प्वाइंट तक निकास लेने का सुझाव दिया गया है. दहिसरा गांव रोड एमसीडी टोल तक दो लेन का हिस्सा, दहिसरा से जट्टी कलां रोड, सिंघू स्टेडियम से पीएस कुंडली तक, हरियाणा में सोनीपत की ओर NH-44 तक जाएगा. 

5- निकास संख्या-2 एनएच-44 डीएसआईआईडीसी चौराहे से हरीश चंदर अस्पताल रेड लाइट से सेक्टर-ए/5 रेड लाइट से रामदेव चौक तक निकास ले सकते हैं. रामदेव चौक से पियाउ मनियारी बॉर्डर हरियाणा में प्रवेश किया जा सकता है. 

6- करबा चौक से मधुबन चौक, भगवान महावीर रोड से रिठाला से पंसाली चौक, हेलीपैड से यूईआर-II से कंझावला रोड- कराला टी-प्वाइंट कंझावला चौक से जौंती गांव तक , जौंती बार्डर तक बाहरी रिंग रोड भी ले सकते हैं और प्रवेश कर सकते हैं. हरियाणा के गांव बामनोली में और नाहरा-नाहरी के रास्ते आगे जा सकते हैं. 

7- बहादुरगढ़, रोहतक की ओर जाने के इच्छुक कारों और एलजीवी को बवाना रोड से कंझावला टी-प्वाइंट से कंझावला चौक से डॉ. साहिब सिंह वर्मा रोड से झंडा चौक/घेवरा की ओर जाने वाले निकास संख्या-2 डीएसआईआईडीसी कट से बाहर निकलने का सुझाव दिया गया है. 

किसानों के साथ बातचीत बेनतीजा 

सरकार की किसानों के साथ हुई तमाम बैठके बेनतीजा रही. किसानों ने अपनी मांगों को रखते हुए सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया. किसानों ने बैठक के बाद कहा कि बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला है और हम सुबह 10 बजे दिल्ली की तरफ मार्च शुरू करेंगे. पड़ोसी राज्यों के साथ सिंघु और टिकरी बॉर्डर सहित दिल्ली से सटे हुए सीमाओं पर हजारों पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है. किसानों के हल्ला बोल को देखते हुए कंक्रीट ब्लॉकों, सड़क कील और कंटीले तारों बैरिकेडिंग करके चौकसी बढ़ा दी गई है.

Also Read

First Published : 13 February 2024, 07:47 AM IST