menu-icon
India Daily
share--v1

जब अरुणाचल प्रदेश की बेटी ने बदली रवायत, UPSC क्रैक कर बनी राज्य की पहली महिला IPS ऑफिसर

IPS Officer Tenzing Yangki: अरुणाचल प्रदेश के तवांग की रहने वाली तेनजिंग यांगकी ने उस समय इतिहास रच दिया जब वह अरुणाचल प्रदेश की पहली IPS ऑफिसर बनीं. उन्होंने 2022 में UPSC की परीक्षा क्लियर करने के साथ 545 वीं रैंक हासिल की.

auth-image
India Daily Live
IPS Tenzing Yangki Success Story
Courtesy: Social Media

IPS Tenzing Yangki Success Story: IPS ऑफिसर बनना कोई आसान काम नहीं है. IPS ऑफिसर बनने की चाहत हर उम्मीदवारों की होती है. वहीं, UPSC एग्जाम क्लियर करने के लिए कड़ी मेहनत और लग्न की जरूरत होती है.  हर साल केवल गिनती के कुछ लोग ही इस पद को हासिल कर पाते हैं. IPS तेनजिंग यांगकी की कहानी ऐसी ही एक उपलब्धि के प्रमाण के रूप में सामने आती है, जब वह अरुणाचल प्रदेश की पहली महिला IPS ऑफिसर के रूप में उभरी हैं.

अरूणाचल प्रदेश के तवांग की रहने वाली तेनजिंग यांगकी ने उस समय इतिहास रच दिया जब वह अरुणाचल प्रदेश की पहली IPS ऑफिसर बनीं. उन्होंने 2022 में UPSC की परीक्षा क्लियर करने के साथ 545 वीं रैंक हासिल की. तेनजिंग की सक्सेस स्टोरी की उन सभी लड़कियों के लिए एक प्रेरणादायक  है जो वो UPSC क्लियर करने की इच्छा रखती हैं.    

कौन हैं IPS तेनजिंग यांगकी के पिता

बता दें, तेनजिंग यांगकी परिवार में सिविल सेवा अधिकारियों की तीसरी पीढ़ी हैं. वह जिग्मी चोडेन की बेटी हैं, जो 1992 बैच के अरुणाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग के अधिकारी हैं और दिवंगत थुप्टेन टेम्पा, जो 1989 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी भी थे. राजनीति में आने से पहले उनके पिता टेंपा IRS और IAS में ऑफिसर थे. तेनजिंग दिवंगत न्येरपा खो की पोती हैं, जिन्होंने अरुणाचल प्रदेश के तवांग क्षेत्र को भारतीय शासन के तहत लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. 

यहां से की तेनजिंग यांगकी ने पढ़ाई

खबर के अनुसार,  तेनजिंग यांगकी ने अपनी स्कूली शिक्षा और ग्रेजुएशन की पढ़ाई असम से की और फिर दिल्ली विश्वविद्यालय के जवाहरलाल नेहरू कॉलेज से राजनीति विज्ञान में मास्टर डिग्री हासिल की. उनके पास इंग्लैंड के वारविक यूनिवर्सिटी से इकोनॉमिक्स और राजनीति और अर्थशास्त्र में बैचलर ऑफ साइंस (ऑनर्स) की डिग्री भी है.