menu-icon
India Daily
share--v1

कनाडा में भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या; टार्गेट किलिंग का शक, हिरासत में लिए गए 4 संदिग्ध

Indian student killed in Canada: कनाडा में भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. वारदात की जानकारी के बाद कनाडा की पुलिस ने 4 संदिग्धों को हिरासत में लिया है और जांच पड़ताल में जुटी है.

auth-image
India Daily Live
Indian killed in Canada
Courtesy: युवराज गोयल के फेसबुक से ली गई तस्वीर.

Indian student killed in Canada: कनाडा में भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. वारदात को सरे में अंजाम दिया गया है. छात्र की पहचान पंजाब के लुधियाना निवासी के रूप में की गई है. हाल ही में उसे कनाडा की नागरिकता मिली थी. फिलहाल, छात्र के परिजन को वारदात की जानकारी दे दी गई है.

मृतक की पहचान भारतीय मूल के 28 साल के युवराज गोयल के रूप में की गई है. शक है कि वारदात को टार्गेट किलिंग के तहत अंजाम दिया गया है. युवराज गोयल, 2019 में छात्र वीजा पर कनाडा आया था और हाल ही में उसने कनाडा के स्थायी निवासी (पीआर) का दर्जा हासिल किया था. सेल्स एग्जीक्यूटिव के तौर पर काम करने वाले गोयल को 7 जून को सुबह 8:46 बजे 164 स्ट्रीट के 900-ब्लॉक में हुई गोलीबारी की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने मृत पाया.

हत्या के मकसद की तलाश में जुटी कनाडा की पुलिस

युवराज गोयल के पिता राजेश गोयल लकड़ी का कारोबार करते हैं और उसकी मां शकुन गोयल हाउसवाइफ हैं. रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस (RCMP) के अनुसार, युवराज का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं था. उसकी हत्या के पीछे का मकसद अभी भी जांच के दायरे में है. घटना के सिलसिले में चार संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है.

कनाडा पुलिस के मुताबिक, हिरासत में लिए गए संदिग्धों में 23 साल का मनवीर बसराम, 20 साल साहिब बसरा, 23 साल का हरकीरत झुट्टी और 20 साल का केइलोन फ्रेंकोइस शामिल है. सभी सरे और ओंटारियो के रहने वाले बताए जा रहे हैं. पुलिस ने कहा कि शुरुआती जांच में मामला टार्गेट किलिंग का लग रहा है. 

पुलिस ने कहा कि फिलहाल हम ये जानकारी जुटा रहे हैं कि युवराज गोयल की हत्या क्यों की गई. आधिकारिक विज्ञप्ति में कनाडा की पुलिस की ओर से कहा कि 8 जून को चारों संदिग्धों को हिरासत में लिया गया. उधर, इंटीग्रेटेड होमिसाइड इन्वेस्टिगेशन टीम (IHIT) के साथ मिलकर कनाडा पुलिस लगातार संदिग्धों के साथ पड़ताल में जुटी है.