menu-icon
India Daily
share--v1

6 के खिलाफ हत्या तो 3 के खिलाफ चल रहा है रेप का केस, जानिए छठे चरण में कैसे-कैसे कैंडिडेट लड़ रहे चुनाव

Sixth Phase Lok Sabha Elections: लोकसभा चुनाव के छठे चरण के लिए प्रचार थम गया है और 25 मई को देश की कुल 57 सीटों पर वोट डाले जाने हैं. इसके बाद 1 जून को सातवें चरण की वोटिंग होगी.

auth-image
India Daily Live
Lok Sabha Elections
Courtesy: Social Media

लोकसभा चुनाव 2024 के अंतिम दो चरण बाकी हैं. छठे और सातवें चरण में कुल 57-57 सीटों के लिए वोटिंग होगी. छठे चरण की 57 सीटों पर कुल 869 उम्मीदवार अपनी दांव आजमाएंगे. वहीं, सातवें चरण में 904 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाएंगे. इन दो चरणों पर होने वाले चुनाव से पहले ही एक रिपोर्ट आई है, जिसे एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक  रिफॉर्म्स (एडीआर) और नेशनल वॉच की तरफ से जारी किया गया है. इस रिपोर्ट में चुनाव में उतरे उम्मीदवारों के आचरण और उनकी संपत्ति का जिक्र किया गया है. इस रिपोर्ट के मुताबिक छठे चरण में 21 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. वहीं, सातवें चरण में 22 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. 

एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार छठे चरण के चुनाव में 869 उम्मीदवारों में से 866 उम्मीदवारों द्वारा अपने नामांकन के समय दी गई जानकारी का विश्लेषण किया गया है. अपने नामांकन में करीब 180 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी दी है. जो कुल सदस्यों का 21 फीसदी हैं. इनमें से 141 के खिलाफ गंभीर अपराध के मामले दर्ज हैं. 21 उम्मीदवारों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला तो वहीं छह पर हत्या का मामला दर्ज है. इसके अलावा तीन उम्मीदवारों के खिलाफ रेप का मामला भी दर्ज है.  

किस पार्टी में कैसे कैंडिडेट?

अगर राजनीतिक पार्टीयों के जिहाज से देखा जाए तो भारतीय जनता पार्टी के 51 में से 28, आम आदमी पार्टी के 5 में से 5 ,राष्ट्रीय जनता दल के 4 में से 4, सपा के 12 में से 9, तो कांग्रेस के 25 में से 8 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी दी हैं. इसके अलावा बीजेपी के 18, आप के 4, सपा के 9 और कांग्रेस के 6 उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं.

छठे चरण के 866 उम्मीदवारों में से करीब 338 उम्मीदवार करोड़पति हैं. बीजेडी के सभी छह, आरजेडी और जेडीयू के सभी चार, बीजेपी के 51 में से 48, सपा के 12 में से 11, कांग्रेस के 25 में से 20 उम्मीदवार करोड़पति हैं. साथ ही छठे चरण के इस चुनाव में सभी उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 6 करोड़ 21 लाख रुपये हैं. योग्यता के आधार पर इस चरण के 332 उम्मीदवारों ने अपनी शिक्षा को 5वीं से 12वीं  के बीच में बताया. 487 उम्मीदवारों ने ग्रेजुएशन किया है. 22 उम्मीदवारों ने डिप्लोमा तो 12 ने खुद को साक्षर बताया है. 

35 रेड अलर्ट निर्वाचन क्षेत्र

लोकसभा चुनाव की जिन 57 सीटों पर चुनाव होने वाला हैं. उनमें से करीब 35 सीटें रेड अलर्ट निर्वाचन क्षेत्र की कैटेगरी में हैं. रेड अलर्ट निर्वाचन क्षेत्र की कैटेगरी में वह सीट आती है जहां से चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों में से कम से कम तीन या उससे अधिक उम्मीदवारों ने अपने शपथ पत्र में आपराधिक मामले दर्ज होने की जानकारी दी हो.