menu-icon
India Daily
share--v1

Aaj Ka panchang: कैसे बदल सकते हैं अपना भाग्य, जानें किस मुहूर्त में करने से बन जाएंगे सारे काम

Aaj Ka panchang: ज्योतिषशास्त्र में शुभ और अशुभ मुहूर्त के लिए लोग पंचांग देखते हैं ताकि अपने आगे के कामों का फल उसी हिसाब से ले सकें. आज 18 अप्रैल 2024 के पंचांग में हम उसी के बारे में बताने जा रहे हैं.

auth-image
India Daily Live
panchang

Aaj Ka panchang: आज गुरुवार है, जिसे देवगुरु बृहस्पति का दिन माना जाता है. यह ज्ञान, शिक्षा और विद्या प्राप्ति के लिए शुभ दिन है. आज चैत्र मास का शुक्ल पक्ष है. शुक्ल पक्ष को शुभ माना जाता है और इस दौरान किए गए सभी कार्य शुभ फल देते हैं.

आज दशमी तिथि है. दशमी तिथि को भगवान विष्णु की पूजा करना शुभ माना जाता है. आज आश्लेषा/मघा नक्षत्र रहेगा. यह नक्षत्र विद्या और धन प्राप्ति के लिए शुभ माना जाता है. आज गंड योग रहेगा. इस योग में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए. दक्षिण दिशा में दिशाशूल है. इसलिए, इस दिशा में यात्रा करने से बचना चाहिए.

राहुकाल दोपहर 1:30 बजे से 3 बजे तक रहेगा. इस समय में कोई भी महत्वपूर्ण कार्य नहीं करना चाहिए.

कौन से कार्यों के लिए है आज का दिन शुभ

  • भगवान विष्णु की पूजा करें.
  • विद्या और ज्ञान प्राप्ति के लिए प्रयास करें.
  • नया व्यवसाय शुरू करें.
  • मकान या जमीन खरीदें.
  • विवाह या मुंडन संस्कार करें.

इन उपायों से कर सकते हैं परेशानियां दूर

  • अगर आपकी कुंडली में शुक्र ग्रह कमजोर है, तो शुक्रवार के दिन गाय का घी किसी मंदिर में दान करें.
  • दक्षिण दिशा में दिशाशूल है. इसलिए, यदि आपको इस दिशा में जाना ही पड़े तो घर से निकलते समय दाहिने पैर से पहले बायां पैर बाहर रखें.
  • राहुकाल में कोई भी महत्वपूर्ण कार्य न करें. यदि आपको इस समय में यात्रा करनी पड़े तो घर से निकलते समय राहु के बीज मंत्र का 108 बार जाप करें.

उदाहरण:

  • यदि आप विद्यार्थी हैं, तो आज आप भगवान विष्णु की पूजा करके उनसे ज्ञान प्राप्ति का आशीर्वाद मांग सकते हैं.
  • यदि आप व्यवसायी हैं, तो आज आप नया व्यवसाय शुरू कर सकते हैं.
  • यदि आप गृहस्थ हैं, तो आज आप विवाह या मुंडन संस्कार कर सकते हैं.

आज का पंचांग: 18 अप्रैल 2024 (गुरुवार)

सूर्योदय: 05:52 बजे
सूर्यास्त: 06:45 बजे

दिनांक: 18 अप्रैल 2024
दिन: गुरुवार
संवत्: 2081
मास: चैत्र मास
पक्ष: शुक्ल पक्ष
तिथि: दशमी तिथि (प्रातः 02:44 बजे से प्रारंभ)
नक्षत्र: आश्लेषा/मघा (दोपहर 03:17 बजे से मघा नक्षत्र)
योग: गंड योग (प्रातः 06:21 बजे से)
करण: बालव (प्रातः 02:44 बजे से)
अमावस्या/पूर्णिमा: पूर्णिमा (24 अप्रैल 2024 को)
चंद्र राशि: सिंह (दोपहर 03:17 बजे से)
दिशाशूल: दक्षिण दिशा
राहुकाल: मध्याह्न 1:30 बजे से 3 बजे तक