share--v1

IND vs ENG: पूरा मिडिल क्लास बैकग्राउंड नजरों में घूम गया...'सपना सच' होने पर चौंक गए थे ध्रुव जुरेल

India vs England Test Series: भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट मैच के दौरान युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ध्रुव जुरेल का चयन एक बड़ी बात रही. इस खिलाड़ी को टीम इंडिया कॉल मिलना एक मिडिल क्लास परिवार का सपना सच होने जैसा रहा.

auth-image
Antriksh Singh
फॉलो करें:

हाइलाइट्स

  • टेस्ट कॉल मिलने पर चौंक गए थे ध्रुव जुरेल
  • गरीबी में जीवन गुजारा, मिडिल क्लास का सपना पूरा हुआ

India vs England Test Series: भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज अप्रत्याशित अंदाज में हुआ है. बेन स्टोक्स एंड कंपनी ने रोहित शर्मा की टीम को तमाम अड़चनों और प्रतिकूलता के बावजूद हरा दिया. सीरीज में भारत के कई बड़े खिलाड़ी भी नहीं खेल पा रहे हैं. दूसरा टेस्ट 2 फरवरी से शुरू हो रहा है. नए खिलाड़ियों को मौका मिल सकता है. एक नए खिलाड़ी ध्रुव जुरेल भी हैं.

ध्रुव जुरेल का सपना सच

युवा क्रिकेट खिलाड़ी ध्रुव जुरेल का सपना सच हो गया है! उन्हें इंग्लैंड टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुना गया है. राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने वाले ध्रुव ने बताया कि जब उन्होंने अपना नाम टीम में देखा तो बहुत खुश हुए और हैरान भी रह गए.

टेस्ट कॉल मिलने की शाम

उन्होंने Jio सिनेमा पर बताया, "उस दिन हमारी प्रैक्टिस देर शाम को खत्म हुई थी. मैं सोने ही जा रहा था कि मैंने यूं ही BCCI टीवी खोला और खुद को टीम में पाया. मैं सचमुच चौंक गया! हर क्रिकेट खेलने वाला बच्चा भारतीय टीम के लिए खेलने का सपना देखता है. अपना नाम देखकर लगा कि सपना सच हो गया है."

ध्रुव को आईपीएल 2023 में फिनिशर की भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है. उन्होंने 13 मैचों में 152 रन बनाए और उनका स्ट्राइक रेट 170 से ऊपर रहा, जिसने सबका ध्यान खींचा.

आर्थिक संघर्ष कम नहीं थे

उन्होंने अपने आर्थिक संघर्षों के बारे में बात करते हुए कहा कि एक मध्यमवर्गीय परिवार से होने के कारण सपने को पूरा करना मुश्किल था. 

उन्होंने कहा, "हर क्रिकेटर का यही सपना होता है, लेकिन जब आप एक मध्यमवर्गीय परिवार से होते हैं तो शुरुआत में ये नामुमकिन सा लगता है. इतनी प्रतिस्पर्धा और आर्थिक दिक्कतों के बीच सबकुछ मैनेज करना आसान नहीं होता. 

"जब टीम में चुना गया तो वो सब याद आ गया - कहां से शुरूआत की थी, किन मुश्किलों को पार किया. ऐसा लगा जैसे पूरी जिंदगी का फ्लैशबैक हो रहा हो. मेरे माता-पिता, बहन और मैं सब इस बारे में बात कर रहे थे. बहुत अच्छा और भावुक करने वाला पल था."

फिलहाल केएस भरत को देखते हुए ध्रुव को टेस्ट कैप मिलते देखने अभी मुमकिन नहीं लगता है. लेकिन ये खिलाड़ी स्क्वाड में जगह बनाकर मैनेजमेंट की नजरों में आ चुका है.

Also Read

First Published : 01 February 2024, 07:20 PM IST