menu-icon
India Daily
share--v1

'आप गलत आदमी से पूछ रहे हैं...' आतंकी निज्जर की हत्या पर जयशंकर ने दिया सीधा जवाब

भारत और कनाडा के बीच चल रहे तनातनी के बीच विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बड़ा बयान दिया है. खालिस्तानी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या का आरोप भारत पर लगाने के बाद कनाडा ने कोई सबूत पेश नहीं किए हैं.

auth-image
Gyanendra Sharma
'आप गलत आदमी से पूछ रहे हैं...' आतंकी निज्जर की हत्या पर जयशंकर ने दिया सीधा जवाब

नई दिल्ली: भारत और कनाडा के बीच चल रहे तनातनी के बीच विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बड़ा बयान दिया है. विदेश मंत्री सुब्रह्मण्यम जयशंकर ने मंगलवार को खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बारे में फाइव आईज के बीच खुफिया जानकारी साझा किए जाने के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि वह द फाइव आईज का हिस्सा नहीं थे और इसलिए यह सवाल उन पर लागू नहीं होता है.

न्यूयॉर्क में काउंसिल ऑन फॉरेन रिलेशंस के एक कार्यक्रम में मीडियाकर्मी ने जयशंकर से रिपोर्टों पर प्रतिक्रिया मांगी कि निज्जर की हत्या के बारे में फाइव आइज़ के बीच खुफिया जानकारी साझा की गई थी. उन्होंने कहा- मैं द फाइव आइज़ का हिस्सा नहीं हूं, मैं निश्चित रूप से एफबीआई का हिस्सा नहीं हूं. इसलिए मुझे लगता है कि आप ग़लत व्यक्ति से पूछ रहे हैं.

जस्टिन ट्रूडो ने लगाए थे आरोप

बता दें कि फाइव आइज़ नेटवर्क एक ख़ुफ़िया गठबंधन है जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और न्यूज़ीलैंड शामिल हैं. कनाडा के प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो ने 18 सितंबर को खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारतीय एजेंटों की "संभावित" संलिप्तता का आरोप लगाया था.

न्यूयॉर्क में क्या बोले एस जयशंकर

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, न्यूयॉर्क में डिस्कशन एट काउंसिल ऑन फॉरेन रिलेशंस' में बोलते हुए जयशंकर ने कहा, ''हमने कनाडाई लोगों से कहा कि यह भारत सरकार की नीति नहीं है. दूसरा, हमने ये भी कहा कि अगर आपके पास कुछ विशिष्ट है और अगर आपके पास कुछ प्रासंगिक है, तो हमें बताएं. हम इसे देखने के लिए तैयार हैं. एक तरह के प्रसंग के बिना तस्वीर पूरी नहीं होती. उन्होंने निज्जर जैसे आतंकवादियों का संदर्भ देते हुए कहा कि भारत अपने दावों पर टीका है. संगठित अपराधी वहां स्थित हैं.

उन्होंने आगे कहा कि पिछले कुछ वर्षों में कनाडा ने वास्तव में अलगाववादी ताकतों, संगठित अपराध, हिंसा और उग्रवाद से संबंधित बहुत सारे संगठित अपराध देखे हैं. वे सभी बहुत गहराई तक फैला है. हमने उन्हें संगठित अपराध और नेतृत्व के बारे में बहुत सारी जानकारी दी है, जो कनाडा से संचालित होती है. बड़ी संख्या में प्रत्यर्पण अनुरोध किए हैं.