share--v1

वर्क लाइफ बैलेंस के लिए ऑस्ट्रेलिया में पेश होगा नया कानून 

Australia News: ऑस्ट्रेलियाई संसद में कर्मचारियों के हितों की रक्षा के लिए इस हफ्ते नया बिल पेश किया जाएगा. इस बिल को वर्क लाइफ बैलेंस सुधार की दिशा में महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है.

auth-image
Shubhank Agnihotri
फॉलो करें:

Australia News: ऑस्ट्रेलिया की संसद में इस हफ्ते कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते हुए नया बिल लाया जा रहा है. इस बिल के नियम कर्मचारियों के हितों को प्राथमिकता देते हैं. इस बिल के ड्राफ्ट के अनुसार, ड्यूटी खत्म होने के बाद कर्मचारी को बॉस का फोन उठाना जरूरी नहीं रह जाएगा. इसके अलावा, ड्यूटी के बाद कर्मचारी से किसी प्रकार का कोई काम नहीं कराया जा सकेगा.

 दबाव बनाया तो देना होगा जुर्माना 

बिल के ड्राफ्ट के अनुसार, यदि कोई कर्मचारी जॉब खत्म करने के बाद किसी भी तरह के काम करने के लिए मजबूर किया जाता है या उस पर अधिक काम करने के लिए दबाव बनाया जाता है तो उसे तगड़ा फाइन देना होगा. इस बिल की खास बात यह है कि सरकार के अलावा विपक्ष से भी इसको पूरा समर्थन हासिल हो रहा है. 

वर्क लाइफ बैलेंस करने की मांग 

ऑस्ट्रेलिया में लंबे समय से वर्क लाइफ बैंलेंस सुधारने को लेकर बहस चल रही थीं. इसके अलावा यह मांग भी सामने आ रही थी कि देश के भीतर कार्य करने के तरीके और उसकी पद्धति में बदलाव किया जाए. इसके बाद सरकार के लेबर मिनिस्टर ने टोनी बर्की ने इस बिल के ड्राफ्ट को तैयार किया. इस बिल को इसी सप्ताह संसद में पेश किया जाएगा. 

तमाम देशों में पहले से ही कानून 

ऑस्ट्रेलिया के विपक्षी नेता एडम बेंट ने कहा कि वे इस बिल का समर्थन करेंगे. यह बिल आज के समय की हकीकत है. लगातार शिकायतें सुनते हैं कि काम पूरा करने के बाद भी बॉस कर्मचारियों को बेवजह परेशान करते रहते हैं. बेंट ने आगे बताया कि हम इस कानून को लाने में पहले ही देरी कर चुके हैं. फ्रांस के अलावा 20 देशों में यह कानून सालों पहले ही मूर्त रूप ले चुका है. 

Also Read

First Published : 07 February 2024, 10:26 PM IST