share--v1

दिल्ली पुलिस ने सीएम केजरीवाल को दिया नोटिस, जानें क्यों पूछा 7 MLA का नाम

Delhi Police Crime Branch Notice: विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त मामले में क्राइम ब्रांच की टीम ने सीएम केजरीवाल को नोटिस देकर कई सवालों का जवाब मांगा है. आईए जानते हैं दिल्ली के मुख्यमंत्री से आखिर किस सवाल का जवाब चाहती है क्राइम ब्रांच.

auth-image
Purushottam Kumar
फॉलो करें:

Delhi Police Crime Branch Notice: आम आदमी पार्टी के विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त मामले में दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की एंट्री हो गई है. क्राइम ब्रांच की टीम ने शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची और एक नोटिस देकर वापस लौट गई. बीते दिनों सीएम केजरीवाल ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एक्स पर एक पोस्ट लिखकर यह दावा किया था कि बीजेपी उनके विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रही है. इसी मामले में क्राइम ब्रांच की टीम ने एक नोटिस देकर सीएम केजरीवाल से इस मामले में अगले तीन दिन के भीतर जवाब मांगा है.

किस सवाल का जवाब चाहती है क्राइम ब्रांच

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नोटिस देकर दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच मुख्य रूप से दो सवालों का जवाब प्रमुखता से चाहती है. क्राइम ब्रांच की टीम यह जानना चाहती है कि सीएम केजरीवाल ने बीजेपी पर विधायकों के खरीद-फरोख्त को लेकर जो आरोप लगाया गया है उसके सबूत क्या हैं. इसके साथ साथ क्राइम ब्रांच की टीम उन सात विधायकों के नाम भी जानना चाहती है जिनको बीजेपी की ओर से ऑफर दिए गए हैं.

जानें क्या है पूरा मामला

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीते दिनों सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एक्स पर एक पोस्ट में यह दावा किया था कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार को गिराने के लिए बीजेपी उनके विधायकों से संपर्क कर उन्हें तोड़ने की कोशिश कर रही है. केजरीवाल के इस आरोप के बाद क्राइम ब्रांच की टीम ने सीएम आवास जाकर नोटिस देकर आरोपों के संबंध में सबूत देने की मांग की है.

क्या है सीएम केजरीवाल का आरोप

सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एक्स पर लिखा था कि पिछले दिनों बीजेपी ने हमारे दिल्ली के 7 MLAs को संपर्क कर कहा है  कि कुछ दिन बाद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लेंगे. उसके बाद MLAs को तोड़ेंगे, 21 MLAs से बात हो गयी है औरों से भी बात कर रहे हैं. उसके बाद दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार गिरा देंगे. पोस्ट में आगे लिखा गया है कि आप भी आ जाओ, 25 करोड़ रुपये देंगे और बीजेपी की टिकट से चुनाव लड़वा देंगे. सीएम ने आगे लिखा था कि उनका दावा है कि उन्होंने 21 MLAs से संपर्क किया है लेकिन हमारी जानकारी के मुताबिक उन्होंने अभी तक 7 MLAs को ही संपर्क किया है और सबने मना कर दिया.

सरकार गिराने के लिए षड्यंत्र- सीएम

सीएम केजरीवाल ने अपने पोस्ट में आगे लिखा है कि इसका मतलब है कि किसी शराब घोटाले की जांच के लिए मुझे गिरफ्तार नहीं किया जा रहा बल्कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार गिराने के लिए षड्यंत्र कर रहे हैं. पिछले नौ सालों में हमारी सरकार गिराने के लिए इन्होंने कई षड्यंत्र किए. लेकिन इन्हें कोई सफलता नहीं मिली. भगवान ने और जनता ने हमेशा हमारा साथ दिया. हमारे सभी MLA भी मजबूती से  साथ हैं. इस बार भी ये लोग अपने नापाक इरादों में फेल होंगे.

सीएम केजरीवाल ने आगे लिखा कि ये लोग जानते हैं कि दिल्ली की जनता के लिए हमारी सरकार ने कितने काम किए हैं. इनकी पैदा की गयी तमाम अड़चनों के बावजूद हमने इतने काम किए हैं. दिल्ली की जनता AAP से बेइंतहा प्यार करती है. इसलिए चुनावों में AAP को हराना इनके बस की बात नहीं. तो एक फर्जी शराब घोटाले के बहाने गिरफ्तार करके सरकार गिराना चाहते हैं.

Also Read

First Published : 03 February 2024, 07:18 PM IST