menu-icon
India Daily
share--v1

दिल्ली सरकार ने कृषि भूमि के सर्कल रेट में बढ़ोत्तरी को दी मंजूरी, जानें क्या होंगी नई दरें

Delhi Land Circle Rate: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कृषि भूमि एवं यमुना के निकट की जमीन का सर्कल रेट बढ़ाने की मंजूरी दे दी है.

auth-image
Sagar Bhardwaj
दिल्ली सरकार ने कृषि भूमि के सर्कल रेट में बढ़ोत्तरी को दी मंजूरी, जानें क्या होंगी नई दरें

नई दिल्ली: यदि दिल्ली में आपकी जमीन है तो आपकी चांदी होने जा रही है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कृषि भूमि एवं यमुना के निकट की जमीन का सर्कल रेट बढ़ाकर अधिकतम 5 करोड़ रुपए प्रति एकड़ करने की मंजूरी दे दी है.

दिल्ली की राजस्व मंत्री आतिशी ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि जिलेवार तय सर्कल दरों में बढ़ोतरी का नोटिफिकेशन एलजी वीके सक्सेना की मंजूरी के बाद जारी कर दिया जाएगा.

आतिशी ने कहा कि दक्षिण दिल्ली एवं नई दिल्ली में कृषि भूमि का नया सर्कल रेट 5 करोड़ रुपए प्रति एकड़ होगा. उत्तरी और दक्षिण पश्चिम दिल्ली में कृषि भूमि का सर्कल रेट 3 करोड़ रुपए प्रति एकड़ और मध्य दिल्ली में 2 करोड़ रुपए प्रति एकड़ हो जाएगा.

14 सालों में 53 लाख से 5 करोड़ पहुंचा सर्किल रेट
दिल्ली में जिन लोगों ने 2008 में जमीन खरीदी होगी उनकी आज चांदी हो गई है. 2008 में दिल्ली में किसानों की जमीन का सर्कल रेट 53 लाख रुपए प्रति एकड़ था जो 14 सालों में बढ़कर 5 करोड़ हो गया है.

क्या होता है सर्कल रेट
दरअसल, सर्कल रेट उस इलाके में जमीन की वह न्यूनतम कीमत होती है जिस कीमत से नीचे उस जमीन की खरीद-फरोख्त नहीं की जा सकती. दरअसल सरकार टैक्स चोरी को रोकने के लिए सर्कल रेट जारी करती है. 

सर्कल रेट न होने की स्थिति में प्रॉपर्टी खरीदार और विक्रेता टैक्स चोरी कर सकते हैं. वो आपस में यह समझौता कर सकते हैं कि जमीन का रेट कम दिखाकर स्टांप ड्यूटी और रजिस्ट्रेशन फीस को बचा लिया जाए. इससे सरकार को तगड़ा घाटा होगा. इसलिए सर्कल रेट जारी किया जाता है.

यह भी पढ़ें: बीजेपी में गुटबाजी पर कांग्रेस का वार, चावड़ा बोले- 'गुजरात में अलग-अलग गुट चला रहे हैं सरकार'