menu-icon
India Daily
share--v1

रेलवे स्टेशन की टॉयलेट सीट्स चाटी और खुद कर डाला रिकॉर्ड, जर्मन नेता का वीडियो देख लोग बोले छी..छी

Video Viral: सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें एक व्यक्ति रेलवे स्टेशन के टॉयलेट में गंदी हरकत कर रहा है. वो टॉयलेट सीट्स चाटते हुए वीडियो बना रहा है.

auth-image
India Daily Live
german leader video viral

Video Viral: रेलवे स्टेशनों के पब्लिक टॉयलेटों की गंदगी तो आपसे छुपी नहीं होगी. इनका उपयोग करते ही लोगों को उल्टी आने लगती है. लेकिन, तब क्या हो जब आप ये सुने को कोई इंसान इन टॉयलेट सीट्स को चाट सकता है. सायद आपको भरोसा ना हो लेकिन एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक शख्स ऐसा करते हुए नजर आ रहा है. इसमें साफ दिख रहा है कि वो टॉयलेट सीट्स चाटते हुए वीडियो भी बना रहा है.

सोशल मीडिया ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. बताया जा रहा है वीडियो जर्मनी का है और उसमें दिख रहा शख्स जर्मनी का नेता है. वो रेलवे स्टेशन के पब्लिक टॉयलेट में घुसकर ये गंदी हरकत कर रहा था. लोगों के नजर में आने पर उल्टियां करने लगा.

नामांकन हुआ रद्द

जर्मनी के इस नेता का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल है. बताया जा रहा है वीडियो पब्लिक डोमेन में आने के बाद फ्री डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता का नामांकन रद्द कर दिया गया है. सबसे बड़ी बात को वीडियो उसने खुद बनाया और खुद ही उसे शेयर किया है.

पूरे शरीर में लगाया मल

वीडियो में दिख रहे नेता का नाम मार्टिन न्यूमैयर है. उसने टॉयलेट सीट्स को चाटने के बाद एक फोटो भी शेयर की है जिसमें वो बिना कपड़ो के है. इसमें दिखाई दे रहा है कि उसने अपने शरीर में मल लगाया हुआ है. अपनी हरकत को उसने अपने लिए सजा करार दिया है.

लाइक, कमेंट और रिट्वीट

वीडियो को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर @EndWokeness नाम के हैंडल से शेयर किया गया है. ये 35 सेकंड वीडियो अब तक 10 मिलियन लोग देख चुके हैं. इस वीडियो पर 31 हजार के करीब लाइक और 10 हजार रिट्वीट आए है. जबकि, इस वीडियो पर 5 हजार से ज्यादा लोगों ने कमेंट किए हैं.

यूजर दे रहे प्रतिक्रियाएं

इस घिनौने वीडियो पर सोशल मीडिया यूजर प्रतिक्रियाएं भी दे रहे है. कोई इसे रिट्वीट कर रहा है तो कोई इस पर कमेंट कर रहा है. एक यूजर ने लिखा है, ‘ये बहुत ही घृणित है, टॉयलेट में ऐसा कौन करता है?' इसी तरह एक एक अन्य यूजर ने लिखा ' ‘इस तरह के लोगों का मेंटल हेल्थ चेकअप होना चाहिए. ये राजनीति नहीं है’.