menu-icon
India Daily
share--v1

कनाडा में बसने के लिए कैसे मिलता है परमानेंट वीजा, एक क्लिक में जानें क्या है प्रक्रिया

Permanent Residency For Canada: कनाडा में हरदीप निज्जर की हत्या के बाद दोनों देश में तनाव बढ़ चुका है. कनाडा में फिलहाल 15 लाख से अधिक भारतीय मूल के लोग रह रहे हैं. आईए बताते हैं कनाडा की नागरिकता कैसे मिल सकती है.

auth-image
Purushottam Kumar
कनाडा में बसने के लिए कैसे मिलता है परमानेंट वीजा, एक क्लिक में जानें क्या है प्रक्रिया

Permanent Residency For Canada: कनाडा में हरदीप निज्जर की हत्या के बाद दोनों देश में तनाव बढ़ चुका है. कनाडा की ओर से पहले भारत के राजदूत को निष्कासित किया गया था जिसके बाद भारत ने भी कनाडा के राजदूत को निष्कासित कर दिया और कनाडा से भारत आने वाले लोगों के लिए वीजा सर्विस को अनिश्चित काल के लिए रोक लगा दी है. दरअसल, कनाडा की ओर से भारत पर आरोप है कि कनाडा में हुए खालिस्तानी आतंकी हरदीप निज्जर की हत्या के पीछे भारत का हाथ है. आपको बता दें, कनाडा में अभी 15 लाख से अधिक भारतीय मूल के लोग रह रहे हैं. आईए आपको बताते हैं कि कैसे एक भारतीय नागरिक को कनाडा की नागरिकता मिल सकती है और यहां अभी कितने भारतीय रहते हैं.

कैसे मिलेगी कनाडा की नागरिकता

कनाडा में बसने के लिए आपको वहां का परमानेंट रेजिडेंसी वीजा लेना होगा. वीजा देने के लिए 2015 में कनाडा सरकार की ओर से एक्सप्रेस एंट्री सिस्टम की शुरुआत की गई थी जिसके बाद किसी भी नागरिक को आसानी से कनाडा का परमानेंट रेजिडेंसी वीजा मिल जाता है. अगर आप कनाडा में बसना चाहते हैं और वहां आपका कोई परिवार पहले से ही बसा हुआ है को एक्सप्रेस एंट्री सिस्टम के तहत आपको परमानेंट वीजा उसके जानने वाले होने के नाम पर मिल सकता है.

ये भी पढ़ें: UN में भारत की दो टूक, पाकिस्तान खाली करे PoK...अल्पसंख्यकों पर बंद हो आत्याचार

कनाडा में कितनी है भारतीय की संख्या

विदेश मंत्रालय की ओर से लोकसभा में हाल में ही साझा की गई एक जानकारी के अनुसार अगस्त तक कनाडा में रहने वाले एनआरई भारतीयों की संख्या 1, 78, 410 है. भारतीय मूल के नागरिक की संख्या की अगर हम बात करें तो वह 15,10,645 है. ओवरसीज इंडियन के डेटा की अगर हम बात करें तो वह करीब 17 लाख है. यूक्रेन-रूस युद्ध के दौरान मंत्रालय की ओर से साझा की गई जानकारी के अनुसार छात्रों की संख्या 1,83,310 थी.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के पूजा स्थलों पर फिर हमला, अहमदिया समुदाय की इबादतगाहों पर चरमपंथियों ने किया हमला