menu-icon
India Daily
share--v1

14 साल के भारतीय लड़के ने तैयार किया 67 भाषाओ में काम करने वाला ChatGPT जैसा AI, जानें कहां और किसने किया ये दावा

AI Raghurai Boat Chat GPT: डिजिटल दुनिया में आए दिन नए-नए बदलाव होते रह रहे हैं. इसी कड़ी में चैट जीपीटी के आने के बाद लोगों का काम और भी आसान हो गया है. इसके कई नए-नए एडिषन भी सामने आते जा रहे हैं.

auth-image
Suraj Tiwari
14 साल के भारतीय लड़के ने तैयार किया 67 भाषाओ में  काम करने वाला ChatGPT जैसा AI, जानें कहां और किसने किया ये दावा

AI Raghurai Boat Chat GPT : डिजिटल दुनिया में आए दिन नए-नए बदलाव होते रह रहे हैं. इसी कड़ी में चैट जीपीटी के आने के बाद लोगों का काम और भी आसान हो गया है. इसके कई नए-नए एडिषन भी सामने आते जा रहे हैं. इसी को लेकर हरियाणा के एक 14 वर्षीय लड़के ने नया एआई टूल बनाया है. जिसको लेकर उसने यह दावा किया है कि यह AI देश-विदेश की 67 भाषाओं में काम कर रही है.

रघुराई बोट नाम से बना ये AI - Chat GPT

हरियाणा के झज्जर जिले के रहने वाले कार्तिक ने AI की दुनिया में बड़ा कारनामा किया है. 14 वर्षीय कार्तिक ने दावा किया है कि उसने चैट जीपीटी जैसा देश का पहला एआई टूल तैयार किया है. जो दुनिया भर के 67 भाषाओं में चैट कर रहा है. इसके साथ ही कार्तिक ने ये भी कहा है कि यह रघुराई बोट चैट जीपीटी से भी एडवांस भारतीय वर्जन है. जो लोगों का सही-सही जवाब भी दे रहा है. 

कार्तिक का कहना है कि चैट जीपीटी से हम सितंबर 2022 तक का ही डाटा प्राप्त कर पा रहे हैं. वहीं रघुराई बोट से हम करेंट इनफॉरमेशन भी प्राप्त कर सकते हैं. इस नए एआई को कार्तिक ने अपने पिता के साथ लॉन्च किया है. कार्तिक ने इस एआई का नाम अपने देशज नाम के आधार पर रघुराई बोट रखा है साथ ही देश को समर्पित भी किया है. इसके साथ ही रघुराई बोट को कार्तिक पेटेंट भी करवा रहे हैं.

Chat GPT
 

सबसे यंग ऐप डेवलेपर हैं कार्तिक

हरियाणा के झज्जर जिले में किसान परिवार में जन्में 14 वर्षीय कार्तिक अभी नौंवी कक्षा के छात्र हैं. वो झज्जर के ही लडायन गांव में स्थित मॉडल संस्कृति स्कूल में पढ़ाई कर रहे हैं. यही नहीं इससे पहले भी कार्तिक ने अपने नाम कीर्तिमान स्थापित किया था. वो देश के यंगेस्ट ऐप डेवलपर भी हैं. इसके साथ ही वो देश का पहला बोलने वाला अखबार भी बना चुके हैं.

भविष्य को लेकर कार्तिक का सपना है कि वो अत्याधुनिक एआई बेस्ट रोबोट बनाएं. इसके लिए वो अभी से तैयारी शुरू कर चुके हैं.

इसे भी पढ़ें-  I phone 15 Sale in India: खरीदने जा रहे हैं आईफोन तो रखें इस बात का ध्यान, जानें कैसे कर सकते हैंं 6 हजार रुपये की बचत