share--v1

सावधान! आपके फोन में भी हैं ये Apps? तुरंत कर दें डिलीट

यहां हम आपको कुछ ऐप्स के बारे में बता रहे हैं जो आपके फोन और डाटा के लिए खतरनाक साबित हो सकती हैं. रिपोर्ट के अनुसार, कुछ मैलवेयर ऐप्स का पता लगाया गया है जो आपका सेंसिटिव डाटा चुरा सकती हैं. 

auth-image
Shilpa Srivastava
फॉलो करें:

Malware Apps: स्मार्टफोन में वायरस का खतरा लगातार बना रहता है. खासतौर से एंड्रॉइड फोन्स में यह खतरा ज्यादा होता है. फोन में मैलवेयर आने की संभावना तब ज्यादा बढ़ जाती है जब फोन में कोई थर्ड पार्टी ऐप या फिर वायरस से रहित ऐप डाउनलोड की जाती है. ये ऐप्स से यूजर्स की सेंसिटिव जानकारी लीक कर देती हैं. इस तरह की ऐप्स गूगल प्ले स्टोर में भी मौजूद होती हैं. 

कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार, गूगल प्ले स्टोर पर कुछ ऐसी ऐप्स का पता चला है जो आपके फोन के लिए खतरनाक साबित हो सकती हैं. ये सभी आपका सेंसिटिव डाटा चुराती हैं. ये ऐप्स गूगल की सिक्योरिटी और प्राइवेसी के लिए बड़ा खतरा हैं. ऐसे में आपको बचकर रहने की जरूरत है. सबसे पहले जानते हैं उन ऐप्स नाम जो आपकी निजी जानकारी चुराती हैं. 

ये हैं मैलवेयर ऐप्स: 
Rafakat (न्यूज)
Privy Talk (मैसेजिंग)
MeetMe (मैसेजिंग)
Let's Chat (मैसेजिंग)
Quick Chat (मैसेजिंग)
chit chat (मैसेजिंग)
hello chat
yohootalk
TIC Toc
nidus
GloChat
wave chat

तुरंत करें डिलीट: 
अगर आपके फोन में ऊपर दी गई ऐप्स में से कोई भी ऐप है तो उसे तुरंत डिलीट कर दें. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपकी निजी या सेंसिटिव जानकारी चोरी हो सकती है. 

गलती से भी न करें ये काम: 
अगर आप इस तरह की ऐप्स से बचना चाहते हैं तो आपको कुछ बातों का ख्याल रखना होगा. अगर ऐसा नहीं किया गया तो आप मुश्किल में फंस सकते हैं. 

  • अगर आप किसी को नहीं जानते हैं और वो आपसे किसी काम के लिए कोई ऐप डाउनलोड करने के लिए कहता है तो आपको इस तरह की ऐप को डाउनलोड नहीं करना चाहिए. 

  • ऐप डाउनलोड करने से पहले आपको उसके बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लेना चाहिए. साथ ही किसी भी थर्ड पार्टी वेबसाइट के जरिए ऐप डाउनलोड नहीं करना चाहिए. 

  • आधिकारिक प्ले स्टोर से ही ऐप डाउनलोड करें.

Also Read

First Published : 05 February 2024, 07:16 AM IST