menu-icon
India Daily
share--v1

Google AI Secret: Google के पुराने इम्प्लॉय ने दिया कंपनी को धोखा, चीन पहुंचा दिए AI सीक्रेट, जाना पड़ा जेल

गूगल के एआई सीक्रेट कंपनी के पुराने कर्मचारी ने चीन पहुंचाएं हैं. इसके लिए व्यक्ति को 10 साल तक की सजा और जुर्माना देना पड़ेगा. चलिए जानते हैं पूरा मामला.

auth-image
India Daily Live
Google AI Secret

Google AI Secret: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को लेकर एक्सपर्ट्स हमेशा से ही चेतावनी देते आए हैं. इनका कहना है को अगर AI किसी गलत हाथ में चला जाए तो उसका गलत इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके लिए सरकार समेत सभी टेक्नोलॉजिकल कंपनियां अपने यूजर्स को सलाह देती रहती हैं और पॉलिसी में भी बदलाव करती रहती हैं जिससे यूजर्स और तकनीक दोनों सुरक्षित रहें. अब गूगल ने अपने एक एक्स-इम्प्लॉय के खिलाफ कड़ा कदम उठाया है. गूगल के एक पुराने कर्मचारी ने कंपनी के AI सीक्रेट जो चीनी कंपनियों को पहुंचाएं हैं. इस चोरी के लिए व्यक्ति पर जुर्माना लगाया गया है और जेल भी जाना पड़ा है. 

कौन है गूगल का एक्स-इम्पलॉय: 
रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, Google के एक्स सॉफ्टवेयर इंजीनियर लिनवेई डिंग ने गूगल के AI सीक्रेट चोरी-छिपे चीन की दो कंपनियों के तक पहुंचाएं हैं. इस आरोप में इन्हें बुधवार सुबह उनके घर से गिरफ्तार किया गया है. इस व्यक्ति ने गूगल के सुपरकंप्यूटिंग डाटा सेंटर के सीक्रेट चुराए हैं जहां पर कंपनी के AI मॉडल को ट्रेन किया जाता है. इस व्यक्ति पर 10 साल तक की सजा और $250,000 का फाइन लगाया गया है.

चोरी का कैसे चला पता: 
डिंग ने गूगल 2019 में ज्वाइन किया था. इसके तीन साल बाद इसने AI सीक्रेट्स चुराने शुरू किए. रिपोर्ट्स के अनुसार, डिंग ने चोरी तब शुरू की जब उसे चीन की एक स्टार्टअप टेक कंपनी से चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर का ऑफर आया. रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि डिंग ने मई 2023 में करीब 500 से ज्यादा कॉन्फिडेंशियल फाइल्स को अपलोड किया था. इसके बाद पता चला का कि इस व्यक्ति ने अपनी टेक्नोलॉजी कंपनी शुरू की है. फिर एक चैट ग्रुप में डॉक्यूमेंट्स को अपलोड करते हुए कहा, "हमारे पास Google के 10,000 कार्ड कम्प्यूटेशनल पावर प्लेटफॉर्म का एक्सपीरियंस है. हमें बस इसका डुप्लीकेट तैयार करके अपग्रेड करना है."

चीन के हाथ AI सीक्रेट लगने से क्या होगा:
चीन के हाथ AI सीक्रेट लगने से काफी नुकसान हो सकता है. जैसा कि विशेषज्ञ हमेशा से कहते आए हैं कि टेक्नोलॉजी अगर गलत हाथों में गई तो उसका नुकसान भयानक हो सकता है. ऐसे ही अगर चीन की इन कंपनियों ने इन AI सीक्रेट का गलत इस्तेमाल किया तो गूगल समेत पूरी दुनिया को तकनीक के क्षेत्र में नुकसान हो सकता है. यह इसलिए कहा जा रहा है कि क्योंकि अगर इन कंपनियों को कुछ अच्छा करना होता तो वो खुद की तकनीक डेवलप करते न कि गूगल के सीक्रेट्स चुराते.