menu-icon
India Daily
share--v1

Fastag को नहीं करना होगा बार-बार रिचार्ज, इस तरह से अपने आप हो जाएगा काम

Fastag & NCMC Recharge: अगर आप Fastag का इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए जरूरी खबर है. बैलेंस कम होने पर अपने आप ही Fastag रिचार्ज हो जाएगा. 

auth-image
India Daily Live
Fastag & NCMC Recharge
Courtesy: Paytm

Fastag & NCMC Recharge: Fastag को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है. RBI ने कहा है कि अब Fastag को बार-बार रिचार्ज कराने की परेशानी से छुटकारा मिल जाएगा. इस सर्विस के तहत Fastag और नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड के यूजर्स का रिचार्ज अपने आप ही हो जाएगा. जब भी बैलेंस एक तय सीमा से नीचे जाएगा तो आपके अकाउंट में अपने आप ही पैसा एड हो जाएगा. यह सारा सिस्टम रेकरिंग पेमेंट मैकेनिज्म द्वारा किया जाएगा. 

ऐसे में सवाल यह उठता है कि यह नया ई-मैंडेट फ्रेमवर्क कैसे काम करेगा. Fastag, NCMC आदि के लिए रेकरिंग पेमेंट की सर्विक दी गई है जिससे बैलेंस कम होते ही अपने आप रिचार्ज हो जाएगा. यह फ्रेमवर्क वीकली, मंथली और डेली पेमेंट की अनुमति देता है.

ये है नया फ्रेमवर्क:

जब Fastag, NCMC में शेष राशि उस लिमिट के नीचे चली जाती है जो आपने सेट की है तो वह ऑटोमैटकली ही रिचार्ज हो जाता है. यह सर्विस ट्रैवलिंग को और भी आसान बनाएगी. यूजर्स ई-मैंडेट सेटअप करने के लिए डेबिट कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं. इस दौरान रेकरिंग ट्रांजेक्शन्स ड्यू डेट पर अपने आप ही हो जाएंगी. 

क्या होंगे बेनिफिट: 

यूजर्स को अब अपने फास्टैग और NCMC बैलेंस को मैनुअल रूप से टॉप करने की आवश्यकता नहीं होगी और कम बैलेंस के चलते सर्विस में रुकावट नहीं होगी. आसान भाषा में अगर आप यात्रा कर रहे हैं और आपके फास्टैग का बैलेंस कम हो जाता है तो आपको उसे गाड़ी रोककर रिचार्ज करने की जरूरत नहीं रहेगी. यह अपने आप ही रिचार्ज हो जाएगा. 

इस तरह की लेन-देन के लिए 24 घंटे की प्री-डेबिट नोटिफिकेशन मिलती है जिससे आपको भी पता चल जाता है कि कब बैलेंस कम है और कब रिचार्ज होने वाला है.