menu-icon
India Daily
share--v1

Ghaziabad News: पहली पत्नी को दिए पैसे, आपत्ति जताने पर की दूसरी की हत्या; लाश के साथ 3 दिन तक घर में रहा कैद

Ghaziabad News: गाजियाबाद में 55 साल के सेल्समैन ने अपनी दूसरी पत्नी की हत्या कर दी. हत्या के बाद वो तीन दिनों तक पत्नी की लाश के साथ कमरे में खुद को कैद कर लिया. जब घर से बदबू आने लगी तो पड़ोसियों ने पुलिस को जानकारी दी, जिसके बाद मामले का खुलासा हुआ.

auth-image
India Daily Live
ghaziabad news salesman killed wife

Ghaziabad News: गाजियाबाद के अंबेडकर नगर में एक शख्स ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी और उसकी लाश के साथ तीन दिनों तक कमरे में बंद रहा. मामले की जानकारी के बाद शनिवार को मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़ा और लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के मुताबिक, संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच पड़ताल की जा रही है. 

मृतका की पहचान 51 साल की सुनीता, जबकि आरोपी पति की पहचान 55 साल के भरत के रूप में की गई है. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, भरत ने दो शादियां की थी. हाल ही में उसने अपनी पहली पत्नी की आर्थिक मदद की थी. जब इसकी जानकारी 27 फरवरी को दूसरी पत्नी सुनीता को हुई, तो उसने आपत्ति जताई और फिर दोनों में झगड़ा होने लगा. इसी दौरान भरत ने सुनीता की हत्या कर दी और 1 मार्च तक खुद को पत्नी की लाश के साथ घर में कैद कर लिया. 

पड़ोसियों के घर से बदबू आई तो पुलिस को दी जानकारी

रिपोर्ट के मुताबिक, भरत के घर से बदबू आने के बाद पड़ोसी उसके घर पहुंचे. उन्होंने आवाज दी लेकिन अंदर से दरवाजा नहीं खुला. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस जब मौके पर पहुंची और दरवाजा तोड़कर अंदर गई तो देखा कि सुनीता की लाश बिस्तर पर पड़ी है, जबकि भरत पास ही बैठा हुआ है.

पुलिस के मुताबिक, शुरुआती जांच में सामने आया है कि भरत ने आपसी झगड़े के दौरान अपनी पत्नी सुनीता की गला घोंटकर हत्या की है. माना जाता है कि सुनीता की हत्या करने के बाद वो तीन दिनों तक घर के अंदर ही मौजूद रहा. शुक्रवार को भरत को पड़ोसियों ने बाहर देखा था. शनिवार को जब लाश की बदबू उसके पड़ोस के घरों तक पहुंची तो मामले का खुलासा हुआ. 

मसूरी पुलिस ने क्या बताया?

मसूरी के एसीपी नरेश कुमार ने कहा कि उन्हें शनिवार दोपहर करीब 3 बजे शव के बारे में जानकारी मिली. मौके पर पहुंचकर पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. एक अन्य पुलिस अधिकारी ने कहा कि भरत और सुनीता दोनों की ये दूसरी शादी थी. ढाई साल पहले एक स्थानीय अदालत में शादी करने से पहले वे पिछले 13 से 14 साल से लिव-इन रिलेशनशिप में थे.

अधिकारियों के मुताबिक, सुनीता से शादी के बाद भी उसने पहली पत्नी की आर्थिक मदद जारी रखी थी, जो दूसरी पत्नी को मंजूर नहीं था. पड़ोसियों से पूछताछ में जानकारी मिली कि भरत की पहली पत्नी अक्सर अंबेडकर नगर वाले घर पर आती थी, जिसके चलते सुनीता और भरत में अक्सर झगड़े होते थे. पुलिस ने सुनीता के परिवार के सदस्यों की शिकायत के आधार पर मसूरी पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 302 (हत्या) के तहत FIR दर्ज की है.