menu-icon
India Daily
share--v1

दुश्मनी भुला ईरान का साथ देने पहुंचा पाकिस्तान, अमेरिका को भी सुनाई खूब खरी-खोटी 

Pakistan News: पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने ईरान का समर्थन किया है. रक्षा मंत्री आसिफ का कहना है कि ईरान को अपनी संप्रभुता की रक्षा का पूरा अधिकार है. इजरायल पर हमला करके उसने कोई गलती नहीं की.

auth-image
India Daily Live
Pakistan Iran

Pakistan News: पाकिस्तान ने ईरान से दुश्मनी भुलाते हुए अमेरिका को आड़े हाथ लिया है. पाक के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा कि पाकिस्तान ईरान के साथ पाइपलाइन प्रोजेक्ट पूरा करने के करीब है और इससे जुड़े सभी तरह के जरूरी निर्णय लिए जा रहे हैं. इस्लामाबाद का यह बयान ऐसे समय आया है जब अमेरिका ईरान के इजरायल पर हमले को लेकर भड़का हुआ है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने तेहरान के ऊपर प्रतिबंधों को और कड़ा करने के लिए जी 7 देशों के प्रतिनिधियों की एक बैठक को भी आमंत्रित किया है.

पाकिस्तान इस सबके बाबजूद भी ईरान का साथ दे रहा है. पाक अगले हफ्ते ईरानी राष्ट्रपति मोहम्मद इब्राहिम रायसी की अगवानी की तैयारियों में जुटा हुआ है. रायसी 22 अप्रैल को इस्लामाबाद की यात्रा पर आ रहे हैं. ईरान के इजरायल पर अप्रत्याशित हमले के बाद मध्य पूर्व में हालात बेहद चिंताजनक हो गए हैं. रिपोर्ट के अनुसार, रायसी उच्च प्रतिनिधिमंडल की यात्रा के साथ पाकिस्तान आ रहे हैं. यह यात्रा इसलिए भी अहम है क्योंकि इस साल की शुरुआत में दोनों देशों के संबंधों को गहरा झटका लगा था जब ईरान ने उसकी सरजमी पर मिसाइल दाग दी थीं. रायसी की यात्रा को दोनों देशों के संबंधों को फिर से पटरी पर लाने और सहयोग को मजबूत करने के तौर पर देखा जा रहा है. 

पाक रक्षा मंत्री ने कहा कि जनवरी माह में दोनों देशों के बीच सीमा तनाव के बाद भी संबंध स्थिर हैं. गैस पाइपलाइन प्रोजेक्ट पर काफी प्रगति हुई है जिससे द्विपक्षीय संबंध पहले की तुलना में और भी ज्यादा दृढ़ हुए हैं. फरवरी में ईरान ने पाकिस्तानी सीमा पर मौजूद आतंकी संगठनों पर हवाई हमला किया था. इसका जवाबी हमला करते हुए पाक ने भी ईरान पर हवाई हमला कर कई आम लोगों को आतंकी बताकर मार डाला था. इस घटना के बाद दोनों देशों के संबंधों में काफी गिरावट आ गई थी. 

पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने इजरायल के सीरिया में ईरानी कांसुलेट पर हवाई हमले की निंदा की. इस हमले में ईरान के कई शीर्ष अधिकारी मारे गए थे. आसिफ ने कहा कि तेहरान को जवाबी कार्रवाई का अधिकार है क्योंकि इजरायल ने अंतरराष्ट्रीय नियम कानूनों की खुलेआम धज्जियां उड़ाई हैं. उन्होंने फिलिस्तीन मसले पर कहा कि पाकिस्तानी लोग उसके साथ मजबूती से खड़े हैं. आसिफ ने कहा कि हम नहीं चाहते कि मध्य-पूर्व में तनाव और बढ़े. फिलिस्तीनियों के नरसंहार को रोका जाना चाहिए.