menu-icon
India Daily
share--v1

इजराइल से युद्ध में हमास ने 'बहादुर' पाकिस्तान से मांगी मदद! कहा- यहूदी मुसलमानों के लिए खतरा

हमास के नेता हनियेह ने यह टिप्पणी पाकिस्तान के इस्लामाबाद में 'अल-अक्सा मस्जिद की पवित्रता और मुस्लिम उम्माह की जिम्मेदारी' विषय पर राष्ट्रीय संवाद में अपने संबोधन के दौरान की. हमास के लिए पाकिस्तान के समर्थन की आशा व्यक्त करते हुए हनियेह ने देश को मुजाहिदीन (इस्लाम के लिए लड़ने वाले लोग) की भूमि कहा.

auth-image
Naresh Chaudhary
 Israel Hamas War, Pakistan, Hamas

हाइलाइट्स

  • पाकिस्तान के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे हमास के नेता इस्माइल हानियेह
  • हमास ने इजराइल पर लगाए ये गंभीर आरोप, कहा- हम उसे पूरी ताकत से रोक रहे

Hamas Seeks Pakistan Help in War Against Israel: करीब दो महीने से इजराइल और हमास के बीच युद्ध जारी है. हाल ही में छह दिन के युद्ध विराम के बाद फिर से इजराइल ने गाजा पर हमला कर दिया है. इस बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है. हमास के वरिष्ठ नेता और आतंकवादी समूह के राजनीतिक प्रमुख इस्माइल हानियेह ने कथित तौर पर इजराइल के साथ चल रहे युद्ध में पाकिस्तान से मदद मांगी है. पाकिस्तान के जियो न्यूज की ओर से इस बारे में खुलासा किया गया है. साथ ही हमास ने पाकिस्तान को 'बहादुर' बताया है. 

पाकिस्तान के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे हमास के नेता

हमास के नेता हनियेह ने यह टिप्पणी पाकिस्तान के इस्लामाबाद में 'अल-अक्सा मस्जिद की पवित्रता और मुस्लिम उम्माह की जिम्मेदारी' विषय पर राष्ट्रीय संवाद में अपने संबोधन के दौरान की. हमास के लिए पाकिस्तान के समर्थन की आशा व्यक्त करते हुए हनियेह ने देश को मुजाहिदीन (इस्लाम के लिए लड़ने वाले लोग) की भूमि कहा. जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार चल रहे इजरायल-हमास युद्ध में फिलिस्तीनियों की ओर से किए गए बलिदान को रेखांकित करते हुए हनियेह ने कहा कि पाकिस्तान की ताकत संभावित रूप से संघर्ष को रोक सकती है.

हमास ने इजराइल पर लगाए ये गंभीर आरोप

हमास के शीर्ष नेता ने पवित्र कुरान का बारीकी से पालन करने वाले देशों के बीच गाजा पट्टी में इजराइल के हमले का विरोध करने के महत्व पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि करीब 16,000 फिलिस्तीनियों की गिरफ्तारी और पवित्र स्थलों को अपवित्र करने समेत इजराइल की कार्रवाई अंतरराष्ट्रीय शर्तों का उल्लंघन थी. इस्माइल हानियेह ने भी फिलिस्तीनी क्षेत्रों पर इजराइल के कब्जे में वृद्धि का हवाला देते हुए ओस्लो समझौते का उल्लंघन बताया. हमास के शीर्ष नेता ने इस्लामिक देशों और इजराइल के बीच राजनयिक संबंधों के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा कि यह फिलिस्तीनी उद्देश्य को गंभीर रूप से बर्बाद कर देगा.

हमास ने इजराइल की मंशा को रोका

मजलिस इत्तेहाद-ए-उम्माह पाकिस्तान की ओर से आयोजित कार्यक्रम के दौरान अपने संबोधन में हनियेह ने अमेरिका और अन्य देशों पर इजराइल का समर्थन करने का आरोप लगाया. यहूदी राष्ट्र को पीछे हटते देखने की अपनी इच्छा के बारे में बात की. इसके अलावा उन्होंने दावा किया कि इजराइल ने स्थायी विनाश के इरादे से गाजा पर अचानक हमले की योजना बनाई थी. जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने हमास के 7 अक्टूबर के हमले को भी सही ठहराया और इसे आत्मरक्षा बताया. साथ ही कहा कि इसने इजराइल की कब्जे करने वाली मंशा को रोक दिया है. 

मुसलमानों के सबसे बड़े दुश्मन

अपने भाषण के दौरान इस्माइल हानियेह ने कहा कि फिलिस्तीनियों को पाकिस्तान से काफी उम्मीदें हैं. उन्होंने कहा कि हमास इजराइल के सबसे उन्नत हथियारों का मुकाबला कर रहा है और इजराइल के इरादों को पटरी से उतारने में फिलिस्तीनी आतंकवादी समूह की सफलता के बारे में दृढ़ संकल्प दिखाया. जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार उन्होंने अपने भाषण में यहूदियों को दुनिया भर के सभी मुसलमानों का सबसे बड़ा दुश्मन भी बताया है.