menu-icon
India Daily
share--v1

आतंकियों ने बरसाईं गोलियां, खाई में गिरी श्रद्धालुओं की बस.... घाटी में कब रुकेगा कत्ल-ए-आम?

जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में आतंकी हमला हुआ है. हमला एक श्रद्धालुओं से भरी की बस पर किया गया. इस घटना में 10 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई, जबकि 33 घायल हो गये हैं.

auth-image
India Daily Live
jammu-and-kashmir
Courtesy: Social Media

जम्मू-कश्मीर में फिर से आतंकी हमला हुआ है. रियासी जिले में शिवखोड़ी गुफा से कटरा लौट रहे बस पर आतंकियों ने घात लगाकर गोली बरसाई. इससे तीर्थयात्रियों को ले जा रही एक बस अनियंत्रित होकर खाई में गिर गई. इस घटना में 10 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई, जबकि 33 घायल हो गये हैं. यह अटैक उस वक्त हुआ जब नई दिल्ली में मोदी और नई कैबिनेट का शपथ ग्रहण समारोह चल रहा था. आंतकियों ने ड्राइवर को गोली मारी, जिससे उलका बस से कंट्रोल खो गया और बस खाई में जा गिरी.

एसएसपी रियासी मोहिता शर्मा ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि शिवखोड़ी से कटरा जा रही यात्री बस पर आतंकियों ने फायरिंग की. फायरिंग के कारण बस चालक का संतुलन बिगड़ गया और बस खाई में गिर गई. इसमें 10 लोगों की मौत हुई है और 33 घायल हैं. यात्रियों कि पहचान अभी की जा रही है.  उन्होंने कहा कि बहुत ही दुर्भाग्यजनक घटना है. आतंकी घात लगाए बैठे थे. उन्होने उस बस पर हमला किया है. उसकी वजह से ड्राइवर का बैलेंस बिगड़ गया और बस खाई में गिर गया है.

दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

आतंकी हमले के पर अमित शाह का भी बयान आया है. उन्होंने सोशल मी़डिया पर लिखा कि जम्मू-कश्मीर के रियासी में तीर्थयात्रियों पर हुए हमले की घटना से बहुत दुःखी हूं.. उपराज्यपाल और डीजीपी, जम्मू-कश्मीर से बात की और घटना के बारे में जानकारी ली. इस कायराना हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा और उन्हें कानून के शिकंजे में लिया जाएगा.. स्थानीय प्रशासन तत्काल चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रहा है. ईश्वर मृतकों के प्रियजनों को इस पीड़ा को सहने की शक्ति प्रदान करें.. मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की भी प्रार्थना करता हूं.

जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने लिखा की मैं रियासी में बस पर हुए कायरतापूर्ण आतंकी हमले की कड़ी निंदा करता हूं. शहीद हुए नागरिकों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं. हमारे सुरक्षा बलों और JKP ने आतंकवादियों की तलाश के लिए एक संयुक्त अभियान शुरू किया है.

 

जेकेएनसी के नेता उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर इस घटना की निंदा की है. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के रियासी से भयानक खबर है. बता दें कि शिवखोड़ी में भगवान शिव को समर्पित एक गुफा है. इसके अंदर एक मंदिर  है.