menu-icon
India Daily
share--v1

'हार के बाद भी मुझे मंत्रिमंडल में शामिल करना..', कैबिनेट मंत्री बनाने पर क्या बोले रवनीत सिंह बिट्टू

Ravneet Singh Bittu News: लोकसभा चुनाव 2024 में NDA की जीत के बाद नरेंद्र मोदी PM बनने जा रहे हैं. इसमें मंत्रियों के नाम में पंजाब के नेता रवनीत बिट्टू का नाम शामिल हैं. इस बात की पुष्टि उन्होंने खुद की है. बिट्टू ने कहा हार के बाद भी मंत्री बनाना उनके लिए बड़ी बात है.

auth-image
India Daily Live
Ravneet Singh Bittu
Courtesy: Social Media

Ravneet Singh Bittu News: लोकसभा चुनाव 2024 में 292 सीटों पर जीत के बाद NDA सरकार बना रही है. इसमें नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. उनके साथ गठबंधन के साथ BJP के कई नेता शपथ लेंगे. इस पूरी लिस्ट में कई चौकाने वाले नाम होंगे. इसी में से एक नाम कांग्रेस से भाजपा में शामिल होकर चुनाव लड़ने वाले नेता रवनीत बिट्टू है. इस की पुष्टि उन्होंने ही की है. खास बात ये की रवनीत 2024 का लोकसभा चुनाव हार गए हैं.

न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए पंजाब के दिवंगत सीएम बेअंत सिंह के पोते रवनीत बिट्टू ने पुष्टि की है कि उन्हें कैबिनेट में शामिल होने का न्योता मिला है.रवनीत तीन बार कांग्रेस से सांसद रह चुके हैं. चुनावों से पहले वो बीजेपी में शामिल हुए थे. हालांकि, चुनाव हार गए थे. संभावना है कि उन्हें राज्यसभा भेजा जाएगा.

रवनीत सिंह बिट्टू ने क्या कहा?

भाजपा नेता रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि यह मेरे लिए बहुत बड़ी बात है कि चुनाव हारने के बाद भी मुझे अपने मंत्रिमंडल में चुना है. इस बार पंजाब को प्राथमिकता दी गई है. मैं 2027 में विधानसभा चुनाव जीतने के लिए भाजपा के लिए जमीन तैयार करूंगा.

बिट्टू ने कहा कि महज 2 साल पहले, पंजाब के लोगों ने कांग्रेस को नकार दिया था, हर कोई AAP के काम को जानता है. इसलिए, लोगों के पास केवल एक ही विकल्प है जो कि भाजपा है. अगर मौका मिला तो मैं पंजाब का मुख्यमंत्री बनना चाहूंगा.

लुधियाना से हारे हैं चुनाव

लोकसभा चुनाव 2024 में रवनीत बिट्टू को लुधियाना लोकसभा सीट से टिकट दिया गया था. यहां उन्हें कांग्रेस के अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने हरा दिया था. बिट्टू को इस चुनाव में 20 हजार 942 वोटों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा था. बिट्टू ने साल 2009 में आनंदपुर साहिब, 2014 और 2019 में लुधियाना से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव जीत चुके हैं.

'बिट्टू मेरे दोस्त हैं'

रवनीत सिंह बिट्टू के लिए प्रचार करने भाजपा नेता अमित शाह ने लुधियाना पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने उनके लिए बड़े संकेत दिए थे. शाह ने कहा था कि बिट्टू मेरे दोस्त हैं और हम जल्द ही बिट्टू को बड़ा आदमी बना देंगे. उनके मंत्री बनने को अब इसी से जोड़कर देखा जा रहा है.

जन संसद के दौरान हुआ था हमला

रवनीत सिंह बिट्टू 24 मार्च 2024 में भाजपा में शामिल हुए थे. इसके पहले उन्होंने 11 मार्च 2021 से 18 जुलाई 2021 तक कांग्रेस के नेता के रूप में कार्य किया. जनवरी 2021 में, 'जन संसद' कार्यक्रम के दौरान सिंघू सीमा पर रवनीत सिंह बिट्टू पर हमला किया गया था. उन्हें लोकसभा में कांग्रेस का सचेतक नियुक्त किया गया. मार्च 2021 में अधीर रंजन चौधरी के व्यस्त होने के कारण उन्हें कुछ समय के लिए लोकसभा में कांग्रेस का नेता भी नियुक्त किया गया था.