menu-icon
India Daily
share--v1

Sheikh Shahjahnan: CID गिरफ्त से लेकर CBI को सौंपे जाने तक, शाहजहां शेख के बॉडी लैंग्वेज में 180 डिग्री का बदलाव

Sheikh Shahjahnan: संदेशखाली के मुख्य आरोपी शेख शाहजहां को CBI को सौंप दिया है. बंगाल पुलिस ने कोर्ट की डेडलाइन के अनुसार शाहजहां की कस्टडी CBI को सौंप दी है. CID गिरफ्त से लेकर CBI को सौंपे जाने तक शाहजहां शेख के बॉडी लैंग्वेज में बड़ा बदलाव देखने को मिला.

auth-image
India Daily Live
Sheikh Shahjahnan

Sheikh Shahjahnan: पहली बार अदालत में पेश होने से लेकर सीबीआई हिरासत में मेडिकल जांच के लिए पेश होने तक शाहजहां शेख के बॉडी लैंग्वेज में 180 डिग्री का बदलाव आया है. ईडी के अधिकारियों पर हमले के मामले का आरोपी शाहजहां शेख को पश्चिम बंगाल सीआईडी ​​ने बुधवार को सीबीआई को सौंप दिया. पश्चिम बंगाल पुलिस ने शाहजहां को CBI को सौंपने के पहले उसका SSKM अस्पताल में मेडिकल टेस्ट कराया. मेडिकल के बाद शाहजहां को कोलकाता में भबानी भवन पुलिस मुख्यालय ले जाया गया, जहां से उसकी कस्टडी CBI को दी गई. इस दौरान शेख के चेहरे पर उदासी छाई हुई थी और तनाव झलक रहा था.

55 दिनों तक भागने के बाद 29 फरवरी को बंगाल पुलिस ने शाहजहां शेख को गिरफ्तार किया गया था. गिरफ्तारी के बाद शेख को बशीरहाट अदालत में पेश करने के लिए ED के अधिकारी ले गए. भारी सुरक्षा मौजूदगी के बीच शेख आत्मविश्वास से कंधे झुकाकर अदालत में दाखिल हुए और मीडियाकर्मियों में उससे सवाल पूछने की होड़ मच गई. उसे 'संदेशखाली का डॉन' कहा जा रहा है. 

'बेगुनाही का दावा करने के लिए इशारा ही काफी'

उसने पेशी के दौरान सफेद कुर्ता-पायजामा और कमरबंद पहना था, जो एक क्लासिक राजनेता की पोशाक है. जब एक रिपोर्टर ने सवाल पूछा कि क्या वह आप ही है जिन्होंने संदेशखाली के लोगों पर अत्याचार किया था? शेख रिपोर्टर की ओर मुड़ा और अपनी उंगली हिलाकर नहीं का संकेत दिया. शेख के बॉडी लैंग्वेज को देखने के बाद ऐसा लग रहा था कि वह अपनी बेगुनाही का दावा करने के लिए कोई शब्द नहीं बस एक इशारा करना ही काफी समझ रहा है. 

विपक्ष ने शेख की बॉडी लैंग्वेज पर उठाए सवाल 

शेख की बॉडी लैंग्वेज को लेकर विपक्ष ने बड़ा हमला बोला है. विपक्ष के नेताओं ने कहा कि उन्हें अपनी गिरफ्तारी की कोई चिंता नहीं  क्योंकि उन्हें पता था कि उन्हें टीएमसी नेतृत्व का समर्थन प्राप्त है. विपक्ष इस बात पर भी सवाल उठाया गया कि अदालत में पेश करते समय पुलिस अधिकारियों ने शेख का हाथ क्यों नहीं पकड़ा गया जैसा कि आम तौर पर किसी आरोपी के साथ होता है. बीजेपी नेता अग्निमित्रा पॉल ने तंज कसते हुए कहा कि "संदेशखाली का बाघ अब चूहा बन गया है. अब उन्हें असली सवालों का सामना करना पड़ेगा?"

शाहजहां शेख पर गैंगरेप और यौन शोषण का आरोप

शाहजहां शेख संदेशखाली में महिलाओं के साथ कथित गैंगरेप और यौन शोषण का आरोपी है. राशन घोटाले में नाम सामने आने के बाद  ED को उसकी तलाशी ली थी.  टीएमसी नेता शेख शाहजहां के घर पर जब छापेमारी चल रही थी तब तृणमूल कांग्रेस नेता के समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए ईडी अधिकारियों पर हमला किया और उनकी कारों में तोड़फोड़ की थी.