menu-icon
India Daily
share--v1

'भारत में ब्लैक बॉक्स है EVM, किसी को देखने की इजाजत नहीं,' चुनाव आयोग पर क्यों नहीं है राहुल गांधी को भरोसा?

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर ईवीएम पर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा है कि भारत में ईवीएम एक ब्लैक बॉक्स है जिसे देखने की इजाजत किसी को नहीं है.राहुल गांधी ने चुनाव आयोग की पारदर्शिता पर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने कहा है कि जब लोकतांत्रिक संस्थाओं में पारदर्शिता की कमी होती है तब सबकुछ एक दिखावा ही रह जाता है. आइए जानते हैं अब उन्होंने क्यों सवाल उठाए हैं.

auth-image
India Daily Live
Rahul Gandhi
Courtesy: Social Media

लोकसभा चुनाव 2024 में कांग्रेस का प्रदर्शन, 10 साल में सबसे बेहतर रहा. कांग्रेस ने 99 सीटों पर जीत हासिल की, राहुल गांधी की छवि बदली और इंडिया ब्लॉक की ओर से वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ सबसे बड़े चेहरे बनकर उभरे. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने तंज कसते हुए कहा कि अब इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) ठीक हो गई होगी, पर क्या में ऐसा है? नहीं. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर ईवीएम पर सवाल उठाए हैं.

राहुल गांधी ने X पर पोस्ट करते हुए ईवीएम पर सवाल उठाया है. उन्होंने लिखा, 'भारत में ईवीएम ब्लैक बॉक्स हैं. किसी को उन्हें देखने की इजाजत नहीं है. चुनाव प्रक्रिया पर गंभीर सवाल खड़े किए जा रहे हैं. लोकतंत्र खत्म हो रहा है. जब संस्थाएं जवाबदेही से बचती हैं तो वे दिखावा बनती हैं और धोखधड़ी की आशंका बढ़ जाती है.'

चुनाव में जीते फिर क्यों लग रहा है ऐसा?

राहुल गांधी के नेतृत्व वाले इंडिया गठबंधन की 234 सीटें आई हैं. कांग्रेस पार्टी का जनाधार साल 2014 से ही गिर रहा था, 2019 में हालात और खराब हुए और 2024 में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी बन गई. इस चुनाव ने साबित कर दिया कि कांग्रेस मुक्त भारत का सपना, कभी सच नहीं होने वाला है. कांग्रेस को गिरकर खड़ा होने आता है. चुनाव में शानदार प्रदर्शन के बाद भी राहुल गांधी को ऐसा क्यों लगा, जबकि बीजेपी 240 सीटों पर सिमट गई.

किस रिपोर्ट का जिक्र कर रहे हैं राहुल गांधी?

राहुल गांधी ने संडे मिड डे की एक रिपोर्ट शेयर की है. मुंबई उत्तर पश्चिम लोकसभा सीट के सांसद रवींद्र वायकर के एक रिश्तेदार की वजह से भारत में ईवीएम पर सवाल उठ रहे हैं. दरअसल वनराई पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि मंगेश पालिंडकर, ईवीएम मशीन से जुड़े फोन का इस्तेमाल कर रहे थे. पुलिस ने चुनाव आयोग के एक कर्मचारी दिनेश गुरव और मंगेश पंडिलकर को नोटिस भेजा है. पुलिस ने फोन को जांच के लिए भेज दिया है. 4 जून को आए चुनाव नतीजे में रवींद्र महज 48 वोटों से शिवसेना (उद्धव) गुट के अमोल कीर्तिकर को हराया है. राहुल ने इसी रिपोर्ट का जिक्र करके सवाल उठा है. 
 

वजह एलन मस्क के एक ट्वीट से जुड़ी हुई है. एलन मस्क ने ईवीएम की प्रासंगिकता को लेकर सवाल उठाए हैं. स्पेस एक्स के CEO मस्क ने कहा है, 'हमें इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को खत्म कर देना चाहए. इंसान और AI इसे हैक कर सकता है. हालांकि ये कम है लेकिन फिर भी ज्यादा है.' एलन मस्क के पोस्ट को लेकर भी हंगामा हो रहा है.