menu-icon
India Daily
share--v1

हर नवजात पर 5 लाख रुपये, समझिए कैसे चलता है बच्चों की तस्करी का गोरखधंधा

Child Trafficking: राजधानी दिल्ली में नवजातों की तस्करी का गोरखधंधा करने वालों को भंडाफोड़ हो गया है. सीबीआई की टीम ने रेड मारकर कई लोगों को गिरफ्तार किया और नवजातों को रेस्क्यू किया है.

auth-image
India Daily Live
Child Trafficking

Child Trafficking: सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन ने दिल्ली के इलाकों में रेड मारकर चाइल्ड ट्रैफिकिंग का गोरखधंधा करने वालों का भंडाफोड़ किया है. राजधानी के केशवपुरम इलाके से  सीबीआई (CBI) की टीम ने 3 नवजातों का रेस्क्यू किया है.

केंद्रीय जांच ब्यूरो के सोर्स के मुताबिक नवजातों का गोरखधंधा करने वाले बच्चों को ब्लैक मार्केट में कमोडिटी की तरह बेचते थे. अभी जांच एजेंसी इस केस की जांच के मध्य में पहुंची है. सीबीआई की टीम इस केस में शामिल महिलाओं और खरीदारों से पूछताछ कर रही है.

पिछले महीने इतने नवजात की हुई तस्करी 

बच्चों को पैसों के लिए बेचने वाले आरोपियों का ये गोरखधंधा दिल्ली बॉर्डर के बाहर अन्य राज्यों में भी फैला हो सकता है. केंद्रीय जांच ब्यूरो की टीम 7 से 8 नवजातों की तस्करी (Child Trafficking) में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर रही है.

अब तक इस केस में अरेस्ट हुए लोगों में से हास्पिटल का वार्ड बॉय और कई महिलाएं शामिल हैं. सीबीआई के सोर्स की मानें तो पिछले महीने लगभग 10 नवजात बच्चों की तस्करी की गई है. बच्चों की तस्करी करने में शामिल कुल 7 लोगों को अब तक गिरफ्तार किया जा चुका है.

इतने रुपये में नवजातों की तस्करी करते हैं तस्कर

दिल्ली के इस गोरखधंधे का भंडाफोड़ होने के बाद सीबीआई (CBI) की टीम कई राज्यों में जांच कर रही हैं. देश के बड़े-बड़े हॉस्पिटल इस समय सीबीआई टीम की निगाहों में हैं. सूत्रों के अनुसार नवजात बच्चों को 4 लाख रुपये से लेकर 5 लाख रुपये की कीमत में बेचा बेचा गया है. बच्चों की तस्करी करने वालें तस्करों के इस गंगे का इंटरनेशनल कनेक्शन भी हो सकता है.

सीबीआई की टीम की ओर से कहा गया है कि नवजात बच्चों की तस्करी ( Newborn Child Trafficking) के इस मामले में आगे की जांच पड़ताल की जा रही है.