menu-icon
India Daily
share--v1

अमेठी के बाद अब वायनाड में भी हारेंगे राहुल गांधी? एग्जिट पोल के आंकड़ों ने कांग्रेस को किया परेशान

Lok Sabha Elections 2024: देश में आयोजित हुए आम चुनावों में 7 चरण का मतदान पूरा हो चुका है और अब देश की 543 सीटों पर नतीजे आने में बस कुछ घंटों का ही समय बाकी रह गया है. इस बीच देश भर के मीडिया हाउसेस एग्जिट पोल चला रहे हैं जिनके अनुसार एक बार फिर से बीजेपी की सरकार वापसी करती नजर आ रही है.

auth-image
India Daily Live
rahul gandhi wayanad
Courtesy: IDL

Lok Sabha Elections 2024: जहां देश में आयोजित हुए आम चुनावों के दिखाए जा रहे एग्जिट पोल्स में पीएम मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार वापसी करती नजर आ रही है तो वहीं इंडिया गठबंधन और कांग्रेस को उम्मीद हैं कि नतीजे उनके पक्ष में आने वाले हैं. इस बीच दक्षिण भारत की सीटों पर फोक्स्ड सर्वे कराने वाले वीएमआर-मनोरमा न्यूज की ओर से जारी किए गए एग्जिट पोल के आंकड़ों ने कांग्रेस को परेशान होने पर मजबूर कर दिया है.

दरअसल इस एग्जिट पोल ने केरल में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन करने वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (यूडीएफ) के क्लीन स्वीप करने की भविष्यवाणी की है. इसके अनुसार यूडीएफ के खाते में 16 सीटें और एलडीएफ के खाते में दो सीटें आएंगी तो वहीं पर 2 सीटों पर कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है.

वायनाड में घट रहा है राहुल गांधी का वोट शेयर

जहां एक ओर ये भविष्यवाणी कांग्रेस के लिए खुशखबरी सी नजर आती है तो वहीं वायनाड  लोकसभा सीट पर जो आंकड़े दिए उससे चिंता की लकीरें जरूर खिंच जाती हैं. वीएमआर-मनोरमा न्यूज की ओर से जारी किए गए इस एग्जिट पोल के अनुसार वायनाड लोकसभा सीट पर हुए मतदान में राहुल गांधी के वोट शेयर में भारी गिरावट देखने को मिल सकती है.

एग्जिट पोल ने भविष्यवाणी की है कि अगर राहुल ने 2019 में 64% वोट हासिल किए थे, तो इस बार उनका वोट शेयर घटकर 50% रह जाएगा. यहां चिंता की बात यह है कि राहुल गांधी को पिछले लोकसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी सिर्फ अमेठी से ही लड़ा करते थे. हालांकि जब 2014 के लोकसभा चुनाव में उनका वोट प्रतिशत गिरा तो 2019 में उन्होंने वायनाड की सीट से लड़ने का फैसला किया.

क्या अमेठी की कहानी होगी वायनाड में रिपीट

राहुल गांधी का ये फैसला उनके लिए सही साबित हुआ क्योंकि अमेठी में उन्हें स्मृति ईरानी से हार का सामना करना पड़ा और ये वायनाड की ही सीट थी जिस पर जीत हासिल कर के वो संसद पहुंच सके थे. ऐसे में अब 2024 के लोकसभा चुनावों में राहुल गांधी के वायनाड में वोट प्रतिशत में गिरावट अमेठी की कहानी दोहराने की ओर इशारा कर रही है.

इस एग्जिट पोल की दिलचस्प बात यह है कि भविष्यवाणी के मुताबिक बीजेपी को इस बार भी बिना किसी सीट के संतोष करना पड़ेगा जबकि अलाथुर और कन्नूर में नतीजे किसी भी तरफ जा सकते हैं. एग्जिट पोल ने भविष्यवाणी की है कि भाजपा दो निर्वाचन क्षेत्रों तिरुवनंतपुरम और पथानामथिट्टा में दूसरे स्थान पर आएगी. त्रिशूर में, भाजपा एलडीएफ के बाद तीसरे स्थान पर रहेगी जबकि यूडीएफ इस सीट पर जीत हासिल करेगी.