menu-icon
India Daily
share--v1

कौन हैं विजया भारती सयानी? NHRC की चेयरपर्सन के रूप में करेंगी काम

Who is Vijaya Bharathi Sayani: NHRC की सदस्य विजया भारती सयानी को 2 जून से इस आयोग का चेयरपर्सन नियुक्त कर दिया गया है. अब आयोग को नया चेयरपर्सन मिलने तक वही इस पद का जिम्मा संभालेंगी.

auth-image
India Daily Live
Vijaya Bharathi Sayani
Courtesy: NHRC Official Website

राष्ट्रीय मानधिकार आयोग (NHRC) की सदस्य रहीं विजया भारती सयानी को अब आयोग का चेयरपर्सन बना दिया गया है. उनकी नियुक्ति 2 जून के प्रभावी होगी. आधिकारिक अधिसूचना के मुताबिक, विजया भारती तब तक इस पद पर रहेंगी जब तक कि NHRC को नया चेयरपर्सन नहीं मिल जाता. वह सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज रहे अरुण कुमार मिश्रा की जगह लेंगी. बता दें कि अरुण कुमार मिश्रा का कार्यकाल 1 जून 2024 को खत्म हो गया था. अभी चुनाव के नतीजे नहीं आए हैं, ऐसे में आयोग को नया अध्यक्ष नहीं मिल पाया है. एक तरह से देखा जाए तो विजया भारती कम ही समय के लिए इस पद पर रहने वाली हैं.

विजया भारती सयानी 28 दिसंबर 2023 को NHRC की सदस्य बनी थीं. आयोग में आने से पहले वह तेलंगाना हाई कोर्ट में वकली रही थीं. वह सिविल और क्रिमिनल मामलों की जानी-मानी वकील हुआ करती थीं. विजया भारती को महिलाओं के उत्पीड़न और दहेज प्रताड़ना वाले मुकदमों की वजह से जाना जाता है. इसके अलावा, वह आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को फ्री में कानूनी सलाह देती रही हैं और उनकी मदद करती रही हैं.

कौन हैं विजया भारती सयानी?

हाल ही में संदेशखाली में हुई हिंसा के बाद NHRC की जिस टीम ने वहां का दौरा किया था, उसमें भी विजया भारती शामिल थीं. कानूनी तौर पर महिलाओं के लिए लड़ने वाली विजया भारती बौद्धिक स्तर पर भी महिलाओं के लिए कलम चलाती रही हैं. उन्होंने तेलुगू अखबारों और साप्ताहिक पत्रों में महिलाओं से जुड़े मुद्दों पर 200 से ज्यादा आर्टिकल लिखे हैं.

वह महिलाओं को समृद्ध और मजबूत बनाने के लिए अंजनी माता सेवा ट्रस्ट, संवर्धनीय न्यास और प्रज्ञा भारती जजैसे एनजीजओ में भी अलग-अलग काम करती रही हैं. वह देशभर के अलग-अलग शिक्षण संस्थानों में लड़कियों के साथ 100 से ज्यादा वर्कशॉप कर चुकी हैं और उन्हें शिक्षित किया है.