share--v1

Lok Sabha Elections 2024: मेरठ को लेकर सपा में इतना कन्फ्यूजन क्यों है? अतुल प्रधान का पत्ता साफ, अब सुनीता वर्मा को दिया टिकट

Lok Sabha Elections 2024:मेरठ लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी ने दूसरी बार अपने उम्मीदवार को बदल दिया है. अब अतुल यादव का पार्टी ने टिकट काट दिया है और सुनीता वर्मा को उम्मीदवार बनाया है.

auth-image
Pankaj Soni

Lok Sabha Elections 2024 : समाजवादी पार्टी में मेरठ लोकसभा सीट को लेकर कन्फ्यूज है. वह तय नहीं कर पा रही है कि आखिर मेरठ से किसको लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार बनाया जाए. क्या बीजेपी के उम्मीदवार अरुण गोविल को सपा इतना मजबूत प्रत्याशी मानकर चल रही है कि उनके मुकाबले सपा में प्रत्याशी नहीं मिल रहा है. या फिर समाजवादी पार्टी में प्रसर पॉलिटिक्स चल रही है, जिसके चलते सपा के मुखिया अखिलेश यादव को बार-बार प्रत्याशी बदलना पड़ रहा है. 

सपा के मुखिया अखिलेश यादव ने मेरठ में एक फिर से प्रत्याशी बदला है. अब अतुल प्रधान का टिकट काटकर इस सीट से सुनीता वर्मा को टिकट दिया गया है. सुनीता आज नामांकन करेंगी. वहीं अतुल प्रधान ने टिकट काटे जाने पर इस्तीफे की पेशकश कर दी है. इसके पहले भानु प्रताप का टिकट काटकर अतुल प्रधान को सोमवार रात टिकट दिया गया था. इसके पहले सपा ने मुरादाबाद के मौजूदा सांसद एसटी हसन का टिकट काटकर रुचि वीरा को टिकट दिया था, जिसके बाद मुरादाबाद में हसन समर्थकों ने नारेबाजी की थी. 

अतुल प्रधान ने टिकट कटने पर विधायक पद से इस्तीफा देने की धमकी दी है. कहा जा रहा है कि वह विधानसभा अध्यक्ष को आज अपना इस्तीफा भेज सकते हैं. अतुल प्रधान ने बुधवार को ही नामांकन दाखिल किया था. अब अतुल का टिकट काटकर अखिलेश यादव ने सुनीता वर्मा को टिकट दिया है.

जयंत चौधरी ने ली चुटकी

सपा में टिकट कटने को लेकर जयंत चौधरी ने एक्स पर ली चुटकी है, लिखा- 'विपक्ष में कुछ घंटों के लिए ही मिलता है टिकट'. उन्होंने पोस्ट में लिखा, विपक्ष में किस्मत वालों को ही कुछ घंटों के लिए लोक सभा प्रत्याशी का टिकट मिलता है! और जिनका टिकट नहीं कटा, उनका नसीब अच्छा है. 

मेरठ में टिकट को लेकर क्या हुआ? 

सपा से उम्मीदवार अतुल प्रधान ने पर्चा दाखिल कर दिया था लेकिन इसके बाद उनका टिकट काट दिया गया. इसके बाद सपा में घमासान नहीं थमा. टिकट लेने वालों में भानु प्रताप सिंह, रफीक अंसारी और योगेश वर्मा लखनऊ में डटे हुए थे. इसी बीच गुरुवार को सुनीता वर्मा के नाम का एलान कर दिया गया. इसके पहले भानु प्रताप का टिकट काटकर अतुल प्रधान को सोमवार रात टिकट दिया गया था.

सुनीता वर्मा के पति ने जताया आभार

सुनीता वर्मा को मेरठ से टिकट दिए जाने पर उनके पति योगेश वर्मा ने अपने एक्स अकाउंट पर एक पोस्ट किया. उन्होंने लिखा कि मेरठ हापुड़ लोकसभा सीट से इंडिया गठबंधन के रूप में सुनीता वर्मा को प्रत्याशी घोषित करने पर शीर्ष नेतृत्व का आभार!.

 

मेरठ में कौन किसा पार्टी से है उम्मीदवार?

मेरठ लोकसभा सीट पर करीब- करीब सभी दलों ने अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी है. बीजेपी ने इस सीट पर रामायण सीरियल में भगवान राम का रोल करने वाले अरुण गोविल की टिकट दिया है. वहीं समाजवादी रार्टी ने दो बार टिकट काटने के बाद अब सुनीता वर्मा को यहां से टिकट दिया है. बसपा से देवव्रत त्यागी ने पर्चा भरा था. दोनों पार्टी के उम्मीदवारों ने भाजपा प्रत्याशी पर निशाना साधा है. 

Also Read