share--v1

अडाणी-हिंडनबर्ग मामले में सुप्रीम कोर्ट की वो टिप्पणी जिसके कारण रॉकेट की रफ्तार से भागे अडाणी ग्रुप के शेयर

धीमी शुरुआत के बाद बंद होते-होते शेयर बाजार में जबरदस्त तेजी देखने को मिली. एनएसई का निफ्टी 95 अंकों की तेजी के साथ 19889.70 जबकि बीएसई का सेंसेक्स 204.16 अंक बढ़कर 66174.20 पर बंद हुआ.

auth-image
Sagar Bhardwaj
फॉलो करें:

Adani-Hindenburg Case: धीमी शुरुआत के बाद बाजार के बंद होते होते शेयर बाजार में जबरदस्त तेजी देखने को मिली.  एनएसई का निफ्टी 95 अंकों की तेजी के साथ 19889.70 जबकि बीएसई का सेंसेक्स  204.16 अंक बढ़कर 66174.20 पर बंद हुआ. मार्केट की तेजी में सबसे ज्यादा योगदान अडाणी समूह के शेयरों का रहा. अडाणी समूह की सभी 10 लिस्टेड कंपनियों के शेयर लगभर 20% की तेजी के साथ बंद हुए.

अडाणी पावर का शेयर 12.76% की तेजी के साथ 447.90 पर, अडाणी गैस 19.99% उछलकर 644.30, वहीं अडाणी एंटरप्राइजेज का शेयर 9.19% के उछाल के साथ 2,430.00 पर बंद हुआ.

क्यों भागे अडाणी ग्रुप के सभी शेयर

दरअसल, अडाणी समूह के निवेशकों में अडाणी-हिंडनबर्ग मामले में सुप्रीम कोर्ट के रुख की वजह से उत्साह देखने को मिला.

शुक्रवार को CJI ने अडाणी-हिंडनबर्ग मामले पर कहा कि हमें अमेरिकी कंपनी हिंडनबर्ग की रिपोर्ट को तथ्यात्मक रूप से सही मानने की जरूरत नहीं है. हिंडनबर्ग यहां मौजूद नहीं है, हमने SEBI को जांच करने के लिए कहा है. वहीं SEBI ने कहा कि वह मामले की जांच के लिए अब और समय नहीं मांगेगी, वह पिछले 8 महीने से इस मामले की जांच कर रही है.
सुप्रीम कोर्ट और सेबी की इस टिप्पणी से निवेशकों में उत्साह देखने को मिला और ग्रुप के शेयरों में जबरदस्त तेजी.

सुप्रीम कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

अडाणी-हिंडनबर्ग मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है कोर्ट ने सोमवार 27 नवंबर तक सभी पक्षों से लिखित में दलीलें मांगी थीं. शुक्रवार 24 नवंबर को सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़ की बेंच ने इस मामले में सुनवाई की थी.

यह भी पढ़ें: AI Model Aitana Lopez: इसान नहीं AI कर रहीं हैं मॉडलिंग, कंपनियों को नहीं झेलने पड़ रहे हैं सेलिब्रिटीज के नखरे


 

 

First Published : 29 November 2023, 01:08 AM IST