share--v1

Neuralink Brain Chip: एलन मस्क की ब्रेन चिप ने किया कमाल, आप सोचेंगे और चल जाएगा माउस

Neuralink की ब्रेन चिप जिस व्यक्ति के दिमाग में इंप्लांट की गई थी वो पूरी तरह से ठीक हो गया है. यह व्यक्ति केवल सोचकर ही माउस को कंट्रोल कर सकता है. 

auth-image
India Daily Live

Neuralink Brain Chip: कुछ ही समय पहले खबर आई थी कि एलन मस्क की न्यूरोटेक्नोलॉजी स्टार्टअप Neuralink ने अपना पहला ह्यूमन ट्रायल पूरा कर लिया था. व्यक्ति के दिमाग में चिप लगाई गई थी. तब एलन मस्क ने जानकारी दी थी व्यक्ति की रिकवरी अच्छी हो रही है. वहीं, अब एलन मस्क ने X पर पोस्ट कर बताया है कि न्यूरालिंक ब्रेन-चिप इंप्लांट किया गया व्यक्ति पूरी तरह से ठीक हो गया है. यह व्यक्ति अपने दिमाग का इस्तेमाल करते माउस को कंट्रोल कर पा रहा है. 

मस्क ने बताया है, "प्रोग्रेस अच्छी है और व्यकित पूर तरह से ठीक हो गया है. व्यक्ति को कोई भी साइड इफेक्ट नहीं हुआ है. ये सिर्फ सोचकर ही माउस को चला पा रहा है." साथ ही कहा कि Neuralink अब व्यक्ति से ज्यादा से ज्यादा बटन क्लिक कराने की कोशिश कर रहा है.

ह्यूमन लाइफ होगी बेहतर:
बता दें कि न्यूरालिंक की ब्रेन चिप के जरिए ह्यूमन लाइफ और भी बेहतर हो जाएगी. इस चिप के जरिए जो व्यक्ति देख नहीं पाते हैं वो देख पाएंगे, पैरालिसिस व्यक्ति चल पाएंगे. इस चिप को Link नाम दिया गया है. एलन मस्क ने इससे पहले कहा था कि व्यक्ति केवल सोचकर ही फोन और कंप्यूटर को चला पाएगा. 

इस ब्रेन चिप के लिए कुछ लोगों को सेलेक्ट किया गया है. इस ट्रायल के लिए उन लोगों को सेलेक्ट किया गया है जिनके सर्वाइकल स्पाइनल कॉर्ड में चोट लगी थी या फिर जिन्हें क्वाड्रिप्लेजिया है. इनकी उम्र 22 साल या उससे ज्यादा है. इन लोगों को ट्रैवल एक्सपेंस भी मिल रहा है. 

कब मिली थी Neuralink को मंजूरी: 
Neuralink को सितंबर 2023 में मंजूरी दी गई थी. इसमें पहले ह्यूमन ट्रायल से लेकर इंडिपेंडेंट इंस्टीट्यूशनल रीव्यू बोर्ड से रिक्रूटमेंट भी शामिल था. इसमें उन लोगों को कहा जा रहा है कि Neuralink के पूरे ट्रायल में करीब 6 साल का समय लग सकता है.

Also Read

First Published : 21 February 2024, 07:37 AM IST