menu-icon
India Daily
share--v1

UP News: प्रेमिका ने मिलने के लिए बुलाया, मां-बाप और रिश्तेदारों संग मिलकर मार डाला; कैसे सुलझी मथुरा बर्निंग कार की गुत्थी?

UP Crime News: पुलिस की जांच में सामने आया कि हत्या की वारदात को अंजाम देने में शामिल प्रेमिका का पिता पहले अपराधी गिरोह का सदस्य रहा था. फिलहाल, वो फरार है, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है.

auth-image
India Daily Live
UP Crime News

UP Crime News: मथुरा में बर्निंग कार मिस्ट्री को पुलिस ने सुलझा लिया है. मामले में पुलिस ने एक युवती और उसकी मां को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने मामले में और लोगों के शामिल होने की भी बात कही है. साथ ही कहा है कि जांच पड़ताल जारी है. दरअसल, 26 फरवरी को मथुरा के फरह इलाके में लोगों ने जलती हुई कार को देखा था, जिसकी सूचना पुलिस को दी गई थी. पुलिस जब घटनास्थल पर पहुंची तो पता चला कि कार में एक शख्स मौजूद था, जिसकी जलकर मौत हो गई. हालांकि बाद में जांच पड़ताल का दायरा बढ़ा तो ये सामने आया कि कार में जलने वाले शख्स की हत्या हुई है और कार में साजिश के तहत आग लगाई गई है. आइए, जानते हैं कि मथुरा कार बर्निंग मिस्ट्री को आखिर पुलिस ने कैसे सुलझाया?

पुलिस की जांच के मुताबिक, कार में जिस शख्स की लाश मिली, उसकी पहचान पुष्पेंद्र यादव के रूप में हुई. जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ी, सामने आया कि पुष्पेंद्र यादव की प्रेमिका ने उसे साजिशन अपने घर बुलाया. इसके बाद अपने माता-पिता और रिश्तेदारों के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी. मथुरा के सीनियर एसपी शैलेश कुमार पांडे ने बताया कि पिछले सोमवार को सुनसान इलाके में कार जलने की सूचना मिली. जांच पड़ताल में पता चला कि जली हुई कार में एक शख्स की लाश मिली, जिसकी पहचान हाथरस के रहने वाले पुष्पेंद्र यादव के रूप में हुई.

आखिर क्यों साजिश के तहत की गई प्रेमी की हत्या?

पुष्पेंद्र यादव की पहचान के बाद पुलिस के सामने चुनौती थी कि आखिर कैसे इस मिस्ट्री को सुलझाया जाए. जब हाथरस में पुष्पेंद्र के परिचितों से जानकारी जुटाई गई, तो पता चला कि पुष्पेंद्र यादव का मथुरा की एक लड़की से अफेयर था. पुलिस ने अब जांच का दायरा पुष्पेंद्र की प्रेमिका की ओर बढ़ाया. इस दौरान जो जानकारी मिली, उससे सारी मिट्री सुलझ गई.

एसएसपी ने बताया कि पुष्पेंद्र यादव पेशे से ट्रांसपोर्टर था और आगरा में रहकर कारोबार देखता था. आगरा में रहने के दौरान उसका अफेयर सिकंदरा इलाके में रहने वाली 20 साल की डॉली से हो गया. जब डॉली के परिजन को अफेयर के बारे में पता चला तो उन्होंने इस पर आपत्ति जताई. जांच में ये भी सामने आया कि डॉली एक बार पुष्पेंद्र के साथ घर से भाग चुकी थी, जिसके बाद डॉली के परिजन पुष्पेंद्र से और नाराज हो गए.

प्रेमिका की शादी तय हुई तो होने वाले ससुरालवालों को सबकुछ बताया

पुलिस की जांच में ये भी सामने आया कि डॉली के घरवालों ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी. जब पुष्पेंद्र यादव को इसकी जानकारी मिली तो उसने डॉली के होने वाले ससुरालवालों को अफेयर की सारी कहानी बता दी. इसके बाद डॉली के परिवारवालों ने पुष्पेंद्र के खिलाफ साजिश रची और डॉली से उसे घर बुलाने को कहा. जब पुष्पेंद्र पिछले सोमवार को डॉली के घर पहुंचा तो उसकी हत्या कर दी गई. फिर लाश को पुष्पेंद्र की कार में रखकर उसे आग के वाले कर दिया, ताकि इसे हादसा समझा जा सके. सीनियर एसपी ने बताया कि डॉली, उसकी मां भूरी देवी को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि भूरी देवी के पति अवधेश यादव की तलाश की जा रही है. फरार है जिसकी तलाश की जा रही है.