menu-icon
India Daily
share--v1

बड़ा प्लान कर रही है इजराइल की वॉर कैबिनेट, क्या अब ईरान होगा तबाह? पढ़ें किसमें कितना है दम

ईरान के हमले के बाद अब इजराइल जवाबी कार्रवाई करने को तैयार है. इसके लिए पीएम नेतन्याहू अब तक 5 बार वॉर कैबिनेट की मीटिंग कर चुके हैं.

auth-image
India Daily Live
Israel war

ईरान ने इजराइल पर ड्रोन से अटैक किया. ये हमला सीरिया में किए गए दूतावास का बदला था. अब इजराइल जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार है. सेना ने ईरान पर हमले की योजना बना ली है. पीएम नेतन्याहू ने अब तक 5 बार वॉर कैबिनेट की मीटिंग कर चुके हैं. इसमें तय किया गया कि इजराइल जवाबी कार्रवाई जरूर करेगा. 

हमला कब और कैसे होगा इसके बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं दी गई है. CNN की रिपोर्ट के मुताबिक इजराइल की वॉर कैबिनेट में ईरान के खिलाफ बनाया गया मिलिट्री प्लान देखा गया और उस पर चर्चा हुई. सभी के बीच सहमति बनी की ईरान से बदला लेना चाहिए. 

ईरान और इजराइल के बीच बढ़ते तनाव के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक, सऊदी और जॉर्डन ने इजराइल से अपील की है कि वो ईरान पर जवाबी हमला न करे. अमेरिका ने खाड़ी के देश में अपनी सेना को अलर्ट  रहे को कहा है. 

इजराइल ईरान को देगा जवाब

बता दें कि 13 अप्रैल के ईरान ने इजराइल पर बड़ी संख्या में मिसाइल और ड्रोन से हमले किए. लगभग 300 ड्रोन मिसाइल से हमला किया गया. अब बारी इजराइल की है.  रक्षा क्षेत्र की समझ रखने वालों की मानें तो इजराइल के पास कई ऐसे विकल्प हैं, जिनके जरिए वह ईरान को नुकसान पहुंचा सकता है. ईरान के सैन्य ठिकानों पर हमला हो सकता है. इसके साथ ही इजराइल लंबी रेंज की मिसाइल से कुछ टारगेट को हिट कर सकता है. इजराइल ईरान के फोर्डो और नतांज में परमाणु ठिकानों पर हमला कर सकता है. 

किसमें कितना दम?

ईरान की कुल आबादी 8.67 करोड़ है, वहीं इजरायल की आबादी 90 लाख है. ईरान की सेनाओं में 5.75 लाख लोग एक्टिव पर्सनल हैं, जबकि इजरायल के पास मात्र 1.73 लाख लोग. 4 लाख से ज्यादा का अंतर है. डिफेंस बजट हालांकि इजरायल का ज्यादा बड़ा है. हवाई ताकत में इजरायली सेना ईरान से आगे है. इजरायल के पास 601 एयरक्राफ्ट्स हैं. जबकि ईरान के पास सिर्फ 541 हैं. फाइटर जेट इजरायल के पास 241 है तो ईरान के पास 186 फाइटर जेट है. इजरायल के पास दुनिया के सबसे ताकतवर एफ-16 और एफ-35 प्लेन हैं. स्पेशल मिशन पूरा करने के लिए इजरायल के पास 23 एयरक्राफ्ट हैं, जबकि ईरान के पास सिर्फ 9 ही हैं.  

इजरायल के पास 126 हेलिकॉप्टर हैं, ईरान के पास भी इतने ही हेलिकॉप्टर हैं. इजरायल के पास 48 अटैक हेलिकॉप्टर हैं जबकि ईरान के पास 12 हैं. जमीनी ताकत के मुकाबले में ईरान के पास इजरायल से ज्यादा टैंक हैं. इजरायल के कुल टैंकों की संख्या 1370 तो वहीं ईरानी टैंक 1996 हैं. 

नौसेना ताकत में कौन किसपर भारी? 

नेवी ताकत की बात करें तो ईरान यहां तगड़ा है. ईरान के पास कुल फ्लीट 101 है. जबकि इजरायल के पास 67 ही हैं. ईरान के पास 19 पनडुब्बियां हैं, जबकि इजरायल के पास 5 पनडुब्बियां हैं.  इजरायल के पास 45 पेट्रोल वेसल हैं, जबकि ईरान के पास सिर्फ 21 ही हैं. ईरान के पास 319 एयरपोर्ट्स हैं. जबकि इजरायल के पास सिर्फ 42 हैं. दुनिया ये मानती है कि इजरायल के पास परमाणु बम है.