menu-icon
India Daily
share--v1

Israel Hamas war: इजरायल के व्यापारिक जहाज पर ड्रोन से हमला, ईरान समर्थित 'हूतियों' पर शक!

Drone Attack on Israeli Ship: ब्रिटिश सेना की यूनाइटेड किंगडम मैरीटाइम ट्रेड ऑपरेशंस और ओशन सिक्योरिटी फर्म एंब्रे ने कहा है कि इजरायल के व्यापारिक जहाज पर यह हमला हिंद महासागर में हुआ. हमले की वजह से जहाज पर आग लग गई.

auth-image
Shubhank Agnihotri
Ship Israel

हाइलाइट्स

  • पिछले महीने भी हुआ था अटैक 
  • रेड सी रूट इस्तेमाल न करने की घोषणा 

Israel Hamas war: हमास के साथ जारी जंग के बीच इजरायल के एक व्यापारिक जहाज को निशाना बनाया गया है. समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक, यह हमला शनिवार को हिंद महासागर में ड्रोन के जरिए हुआ. इस हमले में इजरायल के व्यापारिक जहाज को नुकसान पहुंचा है लेकिन किसी के हताहत होने की खबर सामने नहीं आई है. 


पिछले महीने भी हुआ था अटैक 

ब्रिटिश सेना की यूनाइटेड किंगडम मैरीटाइम ट्रेड ऑपरेशंस और ओशन सिक्योरिटी फर्म एंब्रे ने कहा है कि इजरायल के व्यापारिक जहाज पर यह हमला हिंद महासागर में हुआ. हमले की वजह से जहाज पर आग लग गई. आपको बता दें कि बीते महीने भी हिंद महासागर में एक इजरायली जहाज पर हमला हुआ था. उस दौरान अमेरिकी अधिकारियों ने दावा किया था कि यह हमला ईरानी ड्रोन के जरिए हुआ था. 

यमन के हूतियों पर हो रहा शक 

बीते माह भी यमन के हूती विद्रोहियों ने रेड सी रूट से भारत आ रहे एक इजरायली मालवाहक जहाज को हाइजैक कर लिया था. इसके अलावा विद्रोहियों ने जहाज के चालक दल के 25 सदस्यों को बंधक बना लिया है. इजरायली रिपोर्टों के मुताबिक, इन घटनाओं को देखते हुए इजरायली अधिकारी इसके पीछे भी हूतियों से जोड़कर देख रहे हैं. 

रेड सी रूट इस्तेमाल न करने की घोषणा 

रिपोर्ट के मुताबिक, यमन के अधिकांश इलाके पर ईरान समर्थित हूती विद्रोहियों का कब्जा है और वे हमास को समर्थन देने का एलान कर चुके हैं. इससे पहले हूती विद्रोहियों ने कहा है कि वे रेड सी से गुजरने वाले उन मालवाहक जहाजों पर ड्रोन और रॉकेट से हमले कर रहे हैं जो इजरायल  जा रहे हैं. इन खतरों को देखते हुए पहले ही जहाजों से सामान ढोने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से कई ने रेड सी से न गुजरने की घोषणा कर दी है.