menu-icon
India Daily
share--v1

वो मंत्री जो पहली बार बन रहे हैं मोदी सरकार का हिस्सा! आखिर क्यों खास हैं ये चेहरे?

PM Modi Cabinet List: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली है. मोदी के साथ ही उनकी कैबिनेट के मंत्रियों ने भी अपने पद और गोपनीयता की शपथ ली. नई सरकार में पहली बार कई नेताओं को केंद्र में मंत्री बनाया गया है.

auth-image
India Daily Live
PM modi
Courtesy: Social Media

PM Modi Cabinet List:  नरेंद्र मोदी ने लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के साथ ही इतिहास रच दिया. आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के बाद वे ऐसा करने वाले वे अकेले नेता हैं. बीजेपी ने पीएम मोदी के नेतृत्व में तीसरी बार सत्ता हासिल की है. पीएम की नई मंत्रिमंडल में कई परिवर्तन हुए हैं, इसके अलावा कई चेहरों को पहली बार मंत्री बनाया गया है. नई कैबिनेट में राजनीतिक अनुभव और युवा जोश को भी प्राथमिकता दी गई है. मोदी की नई कैबिनेट का गठन इस कदर किया गया है कि ताकि देश वर्तमान चुनौतियों से प्रभावी ढंग से निपट सके. 

शिवराज सिंह चौहान: मध्य प्रदेश के चार बार मुख्यमंत्री रहे शिवराज सिंह चौहान केंद्र में पहली बार कैबिनेट मंत्री बने हैं. चौहान छटी बार सांसद बने हैं. मध्य प्रदेश में शिवराज की पहचान बेटियों के मामा के रूप में होती है. शिवराज मध्य प्रदेश की राजनीति का प्रमुख चेहरा हैं. 

ललन सिंह: जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष ललन सिंह को मोदी 3.0 कैबिनेट में जगह मिली है. इन्होंने इस बार मुंगेर सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था और जीत दर्ज की थी. नीतीश कुमार के करीबी ललन सिंह चार बार के लोकसभा सदस्य हैं. इससे पहले वे एक बार राज्यसभा के लिए भी निर्वाचित हो चुके हैं. 

चिराग पासवान: लोक जनशक्ति पार्टी ( रामविलास) के सुप्रीमो चिराग पासवान को पहली बार कैबिनेट मंत्री बनने का मौका मिला है. चिराग ने बिहार की हाजीपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था. इससे पहले वे साल 2014 और 2019 में जमुई लोकसभा सीट से जीत हासिल कर चुके हैं. 

मनोहर लाल खट्टर: हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री खट्टर को पहली बार केंद्र में मंत्री बनने का मौका मिला है. वे 9 साल तक हरियाणा के सीएम रहे हैं. खट्टर हरियाणा के करनाल से सांसद बने हैं. 


के राममोहन नायडू: आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम से टीडीपी सांसद नायडू पहली बार केंद्रीय मंत्री बने हैं. वे मोदी कैबिनेट में सबसे कम उम्र के मंत्री हैं. उनकी उम्र मात्र 36 साल है. 

जीतनराम मांझी: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री रहे जीतनराम मांझी को पहली बार केंद्रीय कैबिनेट में जगह मिली है. वे एनडीए गठबंधन के सहयोगी हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के नेता हैं. 

सीआर पाटिल: सीआर पाटिल पहली बार केंद्रीय मंत्री बने हैं. पाटिल गुजरात बीजेपी के अध्यक्ष हैं. वे नवसारी सीट से सांसद बने हैं. 

प्रताप राव जाधव: जाधव तीसरी बार लोकसभा चुनाव जीतकर सदन पहुंचे हैं. वे केंद्र में पहली बार केंद्रीय मंत्री बने हैं. जाधव ने महाराष्ट्र की बुलढाणा सीट से जीत हासिल की है.

जयंत चौधरी: एनडीए के सहयोगी पार्टी राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी पहली बार केंद्र में मंत्री बने हैं. जयंत पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के पोते हैं.

सुरेश गोपी: केरल से बीजेपी के एकमात्र सांसद सुरेश गोपी को पहली बार केंद्र में मंत्री बनाया गया है. उन्होंने केरल की त्रिशूर सीट से जीत हासिल की है. वे मलयालम फिल्मों के फेमस एक्टर हैं. 

अजय टम्टा: उत्तराखंड से अल्मोड़ा के सांसद अजय टम्टा पहली बार केंद्र सरकार में मंत्री बनेंगे. 


रामनाथ ठाकुर: रामनाथ भारत रत्न कर्पूरी ठाकुर के बेटे हैं. वे एनडीए के सहयोगी जेडीयू के नेता हैं. वे पहली बार केंद्र में मंत्री बने हैं. 

बंदी संजय कुमार: बंदी तेलंगाना के करीमनगर से सांसद हैं. वे केंद्र में पहली बार मंत्री बनेंगे. वे तेलंगाना बीजेपी के प्रमुख रहे हैं. 

भगीरथ चौधरी: राजस्थान के अलवर से सांसद चुने गए भगीरथ चौधरी पहली बार केंद्र में मंत्री बने हैं. वे जाट समुदाय से आते हैं. 

हर्ष मल्होत्रा: पूर्वी दिल्ली से पहली बार सांसद बने हर्ष मल्होत्रा को पहली बार केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह मिली है. इससे पहले वे पूर्वी दिल्ली के मेयर भी रह चुके हैं.

पी चंद्रशेखर: चंद्रशेखर देश के सबसे अमीर सांसद हैं. उन्होंने आंध्र प्रदेश के गुंटूर से पहली बार चुनाव जीता है. पहली बार में ही वे केंद्र में मंत्री बन गए हैं. 

कमलेश पासवान: कमलेश उत्तर प्रदेश के बांसगांव से सांसद बने हैं. उन्हें लगातार चौथी बार सांसद चुना गया है. उन्हें केंद्र में मंत्री बनाया गया है. 

रवनीत बिट्टू: पंजाब के पूर्व सीएम बेअंत सिंह के पोते रवनीत बिट्टू तीन बार लोकसभा सांसद रहे हैं. वे चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए थे. उन्हें पहली बार कैबिनेट मंत्री बनाया गया है.

पबित्रा मार्गरिटा: असम से राज्यसभा सांसद हैं. उन्हें पहली बार केंद्र में मंत्री बनाया गया है. वे स्थानीय फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं. 


रक्षा खडसे: रक्षा खडसे महाराष्ट्र की रावेर सीट से सांसद चुनी गई हैं. वे महाराष्ट्र के प्रसिद्ध नेता एकनाथ खड़से की बेटी हैं. वे पहली बार केंद्र में मंत्री बनी हैं. 

सावित्री ठाकुर: सावित्री धार से लोकसभा सांसद हैं. आदिवासी समाज से आने वाली सावित्री को पहली बार केंद्रीय मंत्री बनाया गया है. 

राजभूषण निषाद: निषाद बिहार के मुजफ्फरपुर से सांसद बने हैं. कुछ ही दिन पहले बीजेपी में शामिल हुए थे. निषाद पहली बार केंद्र में मंत्री बने हैं. 

निमूबेन बांभनिया: गुजरात के भावनगर लोकसभा सीट से सांसद जीतकर सदन पहुंची हैं. उन्हें पहली बार में ही केंद्र में मंत्री बनने का मौका मिला है.

भूपति राजू श्रीनिवास वर्मा: आंध्र प्रदेश के नरसापुरम से सांसद हैं.उन्हें केंद्र में पहली बार मंत्री बनाया गया है. 

तोखन साहू: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से सांसद तोखन शाहू को पहली बार केंद्र में मंत्री बनने का मौका मिला है.