menu-icon
India Daily
share--v1

'BJP सांसद की ओर प्रायोजित...', लोकसभा में सुरक्षा चूक को लेकर शशि थरूर की बड़ी प्रतिक्रिया

सांसद शशि थरूर ने बड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा " तथ्य यह है कि इन दोनों शख्स को स्पष्ट रूप से सत्ताधारी पार्टी के एक मौजूदा सांसद की ओर प्रायोजित किया गया था.

auth-image
Avinash Kumar Singh
लोकसभा में सुरक्षा चूक

नई दिल्ली: लोकसभा की सुरक्षा में बड़ी चूक सामने आई है. दर्शक दीर्घा से दो शख्स सदन की कार्यवाही में कूद पड़े. इसके बाद स्प्रे के जरिए धुआं फैला दिया. घटना के तुरंत बाद दोनों व्यक्तियों को पकड़ लिया गया. अब इस पूरे मामले को लेकर विपक्ष सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठा रहा है. संसद में सुरक्षा उल्लंघन पर चिंता जताते हुए कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने दावा किया कि जाहिर तौर पर यह घटना सत्तारूढ़ पार्टी के एक मौजूदा सांसद द्वारा प्रायोजित किया गया था. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को बयान जारी करना चाहिए.

शशि थरूर की बड़ी प्रतिक्रिया 

सांसद शशि थरूर ने बड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा " तथ्य यह है कि इन दोनों शख्स को स्पष्ट रूप से सत्ताधारी पार्टी के एक मौजूदा सांसद की ओर प्रायोजित किया गया था. ये लोग स्मोक पिस्तौल की तस्करी करते थे, जो दर्शाता है कि गंभीर सुरक्षा चूक है. उन्होंने न केवल पिस्तौल से गोलीबारी की बल्कि कुछ चिल्लाये भी हममें से कुछ लोगों के लिए नारे सुनाई नहीं दे रहे थे.पुराने भवन की व्यवस्थाओं की तुलना में सुरक्षा के मामले में नई इमारत बहुत अच्छी तरह से तैयार नहीं की गई है"

BJP सांसद प्रताप सिम्हा के रेफरेंस पर संसद में घुसे दो शख्स

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार दोनों शख्स की पहचान सागर और मनोरंजन के रूप में हुई है. सागर लखनऊ का रहने वाला बताया जा रहा है तो वहीं मनोरंजन कर्नाटक के मैसूर का रहने वाला बताया जा रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक संसद में इन दोनों आरोपियों की एंट्री एक बीजेपी सांसद के रेफरेंस से हुई थी. जानकारी के अनुसार दोनों आरोपी कर्नाटक के मैसूर से बीजेपी सांसद प्रताप सिम्हा के नाम पर विजिटर पास लेकर आए थे.

पुलिस की गिरफ्त में दोनों शख्स 

संसद पर आतंकी हमले की 22वीं बरसी पर उस समय बड़ी सुरक्षा चूक हुई, जब शून्यकाल के दौरान दो शख्स दर्शक दीर्घा से लोकसभा  में कूद पड़े. इसके बाद लोकसभा में अफरातफरी का माहौल हो गया. दर्शक दीर्घा से नीचे कूदने के बाद वह शख्स स्पीकर की कुर्सी की ओर भागने लगा जिसे वहां मौजूद सांसदों ने पकड़ लिया. दोनों आरोपियों को दिल्ली पुलिस को सौंप दिया गया है और फिलहाल  उनसे पूछताछ जारी है.