menu-icon
India Daily
share--v1

सरकार बनने के 24 घंटे के भीतर ही NDA में मंत्री पद को लेकर घमासान शुरू, शिवसेना ने लगाया ये आरोप

शिवसेना शिंदे गुट के सांसद श्रीरंग बारण ने पार्टी के किसी भी सांसद को मोदी कैबिनेट में जगह न मिलने पर नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने भाजपा पर पक्षपात का भी आरोप लगाया है.

auth-image
India Daily Live
Shrirang Barane
Courtesy: Social media

मोदी कैबिनेट में पार्टी के किसी भी सांसद को जगह ना मिलने पर महाराष्ट्र में NDA की सहयोगी पार्टी शिवसेना (शिंदे गुट) ने नाराजगी जाहिर की है. शिवसेना (शिंदे गुट) के सांसद श्रीरंग बारणे ने कहा कि हमारी पार्टी से 7 सांसद होने के बावजूद किसी को भी मोदी कैबिनेट में जगह नहीं मिली. बता दें कि शिवसेना (शिंदे गुट) के प्रतापराव जाधव ने मोदी 3.0 में राज्य मंत्री  (स्वतंत्र प्रभार) की शपथ ली है.

श्रीरंग बारणे ने कहा, 'हम कैबिनेट मंत्री पद की उम्मीद कर रहे थे. चिराग पासवान के 5 सांसद हैं, जीतन राम मांझी का 1 सांसद है, इसके बाद भी उन्हें कैबिनेट मंत्रालय मिला. हमारी पार्टी से 7 सांसद होने के बाद भी हमें सिर्फ एक राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) क्यों मिला?'

'हमें कैबिनेट पद मिलना चाहिए था'

उन्होंने कहा कि शिवसेना भाजपा की पुरानी सहयोगी है और टीडीपी, जेडीयू के बाद भाजपा की तीसरी सबसे बड़ी पार्टी है, इसलिए हमें कैबिनेट पद मिलना चाहिए था. उन्होंने भाजपा पर पक्षपात का भी आरोप लगाया.

'हमारी भाजपा से अभी भी उम्मीद है'

शिवसेना सांसद ने कहा कि महाराष्ट्र में हमने 15 सीटों पर चुनाव लड़ा और 7 सीटें जीतीं जबकि भाजपा ने 28 सीटों पर चुनाव लड़ा और 9 सीटें जीतीं. उन्होंने कहा कि भाजपा को यह ध्यान रखना चाहिए कि एकनाथ शिंदे के साहसिक कदम के कारण महाराष्ट्र में सत्ता परिवर्तन हुआ, हमारी भाजपा से अभी भी उम्मीद है.

एनडीए को बिना शर्त समर्थन
वहीं श्रीरंग बारणे के बयान पर पार्टी के नेता और सांसद श्रीकांत शिंदे ने कहा कि हमने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि हम एनडीए को बिना शर्त समर्थन दे रहे हैं, देश को इस वक्त प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व की जरूरत है.

मोदी कैबिनेट में महाराष्ट्र से 6  सांसद
बता दें कि मोदी कैबिनेट में महाराष्ट्र के 6 सांसदों को जगह दी गई है, जिसमें भाजपा के चार सांसद शामिल हैं. इन 6 नामों में नितिन गडकरी, पीयूष गोयल, महाराष्ट्र की इकलौती महिला सांसद रक्षा खडसे और पहली बार सांसद बने मुरलीधर मोहोल शामिल हैं. वहीं बीजेपी के सहयोगी दलों में RPI (A) प्रमुख रामदास अठावले और प्रतापराव जाधव शामिल हैं.