menu-icon
India Daily
share--v1

'हमें कुछ भी शर्म नहीं होनी चाहिए...', 24 साल बाद CM पद गंवाने के बाद बोले नवीन पटनायक

नवीन पटनायक ने कहा जब मैं पहली बार मुख्यमंत्री बना था तब ओडिशा में 70 फीसदी लोग गरीबी रेखा से नीचे थे लेकिन आज केवल 10 फीसदी लोग राज्य में गरीबी रेखा से नीचे रह गए हैं.

auth-image
India Daily Live
Naveen Patnaik
Courtesy: PTI

Odisha News: हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा के हाथों मिली करारी हार के बाद ओडिशा के निवर्तमान मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पहली प्रतिक्रिया दी है. नवीन पटनायक ने कहा कि पार्टी को अपने 24 साल के शासन पर शर्मिंदा नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि उनके शासनकाल में ओडिशा ने नई उपलब्धियां हासिल की हैं.

'हमने बहुत अच्छा काम किया'

पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नवीन पटनायक ने दावा किया कि जब वह पहली बार ओडिशा के मुख्यमंत्री बने थे तब ओडिशा के 70 फीसदी लोग गरीबी रेखा से नीचे थे लेकिन आज उनमें से केवल 10 प्रतिशत लोग ही गरीबी रेखा से नीचे बचे हैं. नवीन पटनायक ने कहा, 'हमने शिक्षा, स्वास्थ, कृषि आदि में बहुत अच्छा काम किया. हमें अपने 24 साल के शासन पर शर्मिंदा नहीं होना चाहिए.'

बुधवार को ढह गया बीजेडी का किला
बुधवार को विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के साथ ही ओडिशा में बीजेडी का किला ढह गया. 1997 से बीजेडी का 27 सालों तक ओडिशा में शासन रहा. हालांकि हालिया विधानसभा चुनाव में बीजद भारतीय जनता पार्टी से हार गई. पटनायक अभी तक राज्य में कोई चुनाव नहीं हारे थे.

विधानसभा के साथ लोकसभा चुनाव में भी भाजपा की शानदार जीत
विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 147 विधानसभा सीटों में से 78 सीटों पर जीत दर्ज की. यही नहीं भाजपा ने ओडिशा की 21 लोकसभा सीटों में से 20 सीटों पर भी शानदार जीत दर्ज की. देश के साथ साथ प्रदेश में भी भाजपा जल्द सरकार बनाएगी.  इस जीत के साथ भाजपा पहली बार ओडिशा में सरकार बनाने जा रही है.