menu-icon
India Daily
share--v1

NEET-UG Row: NTA पर कुछ बड़ा करने वाली है सरकार, NEET विवाद ने किया मजबूर!

NEET-UG परीक्षा को लेकर केंद्र सरकार, विपक्ष के निशाने पर है. छात्र इस बात से नाराज हैं कि इतने व्यापक स्तर पर कैसे धांधली हो सकती है. 4 जून को नतीजे घोषित करने के बाद से ही इस पर हंगामा बरपा है. छात्र, कोचिंग संस्थान से लेकर अभिभावकों तक में इस बात का गुस्सा है. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की कार्यप्रणाली सवालों के दायरे में है.

auth-image
India Daily Live
Dharmendra Pradhan
Courtesy: Social Media

NEET-UG एग्जाम को लेकर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की कार्य प्रणाली पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार बुरी तरह घिर गई है. अब ऐसा माना जा रहा है कि शिक्षा मंत्रालय, एनटीए पर बड़े सुधार कर सकता है. एजेंसी के संचालन और परीक्षा प्रशासन में कई अहम बदलाव किए जा सकते हैं. इसमें बदलावों की सिफारिश के लिए एक उच्च स्तरीय समिति की स्थापना की जा सकती है. 

4 जून को NEET-UG 2024 के नतीजे सामने आए थे. छात्र पूरे एग्जाम में मार्किंग प्रक्रिया पर ही नाराज थे. छात्रों को 720 में से 720 नंबर मिल गए थे. कुछ छात्रों को 718 और 719 नंबर मिल गए थे. ग्रेस मार्क की प्रक्रिया को लेकर भी सवाल उठे थे. एनटीए ने कोर्ट के आदेश के बाद ग्रेस मार्क को हटा लिया और फिर से एग्जाम के लिए तैयारी कर ली. इन फैसलों के बाद भी एनटीए में बड़े सुधारों की दरकार है.

क्यों एनटीए पर उठे हैं सवाल?

छात्रों के ग्रेस मार्क, लीक पेपर और एग्जाम सेंटर्स पर धांधली को लेकर सवाल उठे हैं. एनटीए इन मुद्दों पर बुरी तरह से घिर गया है. लोग मांग कर रहे हैं कि ऐसी धांधली दोबारा न हो, इसके लिए कोई सरकार कड़ा फैसला ले. केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रविवार को कहा, 'NEET UG 2024 स्कैम में दोषी पाए जाने वालों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी.'

क्या करने वाली है सरकार?

धर्मेंद्र प्रधान ने छात्रों और अभिभावकों को आश्वासन दिया है कि सरकार इस मामले को गंभीरता से ले रही है. एक सीनियर अधिकारी ने कहा  है, 'मामला कोर्ट में है. शिक्षा मंत्रालय और एनटीए भी छानबीन कर रहे हैं. हालांकि, एक बार जांच और अदालती आदेशों के आधार पर मुद्दा सुलझ जाने के बाद, कुछ सुधार किए जाएंगे. अधिकारी का दावा है कि शिक्षा मंत्रालय सुधारों की सिफारिश करने के लिए एक समिति गठित की जा सकती है.

क्या चाहते हैं धर्मेंद्र प्रधान?

धर्मेंद्र प्रधान ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा है कि सरकार NEET में जो कुछ हुआ उसकी गहन समीक्षा करेगी. परीक्षाओं और NTA दोनों में सुधार के लिए कदम उठाएगी. NTA पर अभी काम चल रहा है, यह परिपूर्ण नहीं है. इसे मजबूद बनाने की जरूरत है. हम लाखों युवा छात्रों के भविष्य को लेकर चिंतित हैं.