menu-icon
India Daily
share--v1

नए साल से पहले मुंबई में सीरियल ब्लास्ट की धमकी; शहर में अलर्ट, जांच में जुटी पुलिस

मुंबई पुलिस कंट्रोल रूम को शनिवार शाम करीब 6 बजे एक धमकी भरा फोन आया, जिसमें फोन करने वाले ने दावा किया कि मुंबई में धमाके होंगे और इतना कहने के बाद फोन काट दिया.

auth-image
Om Pratap
Mumbai Police serial blast threat call probe on

हाइलाइट्स

  • अप्रिय घटनाओं को रोकने के लिए SRPF, QRT तैनात
  • पिकनिक स्पॉट पर सुरक्षा के भारी इंतजाम की व्यवस्था

Mumbai Police serial blast threat call: मुंबई पुलिस को शहर में सीरियल ब्लास्ट की धमकी मिली है. धमकी भरे कॉल के बाद मुंबई पुलिस अलर्ट पर है. पूरे शहर में गाड़ियों के चेकिंग और जांच पड़ताल की जा रही है. जानकारी के मुताबिक, मुंबई पुलिस कंट्रोल रूम को शनिवार शाम करीब 6 बजे एक धमकी भरा फोन आया, जिसमें फोन करने वाले ने दावा किया कि मुंबई में धमाके होंगे और इतना कहने के बाद फोन काट दिया.

पुलिस ने कई जगहों पर जांच शुरू कर दी है लेकिन अभी तक कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है. पुलिस फिलहाल कॉल करने वाले का विवरण जुटाने की कोशिश कर रही है. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, धमकी भरे कॉल के बाद शहर भर में प्रमुख सार्वजनिक स्थानों और प्रतिष्ठानों पर तलाशी ली गई. फिलहाल, कोई विस्फोटक उपकरण या कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है, लेकिन जांच पड़ताल जारी है.

मेल से भी भेजी गई थी धमकी

बता दें कि कुछ दिन पहले इसी तरह की धमकी ईमेल में भी भेजी गई थी जिसमें दावा किया गया था कि मुंबई में 11 जगहों पर बम रखे गए हैं. मेल करने वाले ने भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के इस्तीफे की मांग की. मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने धमकी भरे मेल के मामले में गुजरात के वडोदरा से तीन लोगों को गिरफ्तार किया.

अप्रिय घटनाओं को रोकने के लिए SRPF, QRT तैनात

बताया जा रहा है कि नए साल की पूर्व संध्या पर किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए राज्य रिजर्व पुलिस बल (एसआरपीएफ) और त्वरित प्रतिक्रिया टीमों (क्यूआरटी) के कर्मियों समेत 15,000 से अधिक पुलिसकर्मी शहर भर में तैनात किए जाएंगे. इसके अलावा, मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने वाहनों की आवाजाही और दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए व्यवस्था की है.

मुंबई पुलिस के एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, लगातार गश्ती की जाएगी, यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले और शराब के नशे में गाड़ी चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. 5,000 से अधिक सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जाएगी. पुलिस, एंट्री और एग्जिट प्वाइंट समेत शहर में 121 महत्वपूर्ण बिंदुओं पर नाकाबंदी भी करेगी.

फेमस पर्यटन स्थल और उन जगहों पर जहां अधिकतम पर्यटकों की आवाजाही की संभावना है, वहां भारी पुलिस बंदोबस्त देखने को मिलेगा. इसके अलावा, महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों, धार्मिक स्थलों और अधिक आवाजाही वाले क्षेत्रों के आसपास भी सुरक्षा बढ़ा दी जाएगी.