share--v1

Jammu Kashmir: कश्मीरियों के सहारे आतंक पर नकेल, जम्मू-कश्मीर पुलिस का 'खास' प्लान

jammu kashmir police announced reward: जम्मू कश्मीर पुलिस ने घाटी में आतंक पर लगाम, अलगाववाद को रोकने और राष्ट्र विरोधी गतिविधियों पर लगाम के लिए खास प्लान तैयार किया है. पुलिस ने अलग-अलग गतिविधियों की सूचना शेयर करने वालों के लिए नगर इनाम की घोषणा की है.

auth-image
Om Pratap
फॉलो करें:

jammu kashmir police announced reward: जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कश्मीरियों के सहारे आतंक पर लगाम कसने के लिए खास प्लान तैयार किया है. पुलिस की ओर से बयान जारी कर कहा गया है कि जो कोई भी आतंक, अलगाववाद और राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के बारे में सूचनाएं शेयर करेगा या जानकारी देगा, उसे 5 लाख रुपये तक का नगद इनाम दिया जाएगा. 

न्यूज एजेंसी PTI के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने शनिवार को घोषणा की है कि केंद्र शासित प्रदेश में राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों से संबंधित जानकारी शेयर करने वाले को 1 लाख रुपये से 5 लाख रुपये के बीच नकद इनाम दिया जाएगा. 

पुलिस ने एक बयान में कहा कि सीमा पार से जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों, विस्फोटकों और तस्करी की खेपों को पहुंचाने के लिए राष्ट्र-विरोधी तत्वों की ओर से इस्तेमाल की जाने वाली ट्रांसबॉर्डर सुरंग का पता लगाने वाले को सबसे अधिक 5 लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा.

सूचना सही होने पर ही मिलेंगे इनाम

पुलिस की ओर से शेयर की गई जानकारी में कहा गया कि नशीले पदार्थ, हथियार या विस्फोटक सामग्री गिराने के लिए सीमा पार से उड़ाए गए ड्रोन के बारे में जानकारी देने वालों को इनाम के रूप में 3 लाख रुपये दिए जाएंगे, जिससे सामग्री की बरामदगी हो सके. 

कहा गया कि जो कोई भी ड्रोन डिलीवरी प्राप्त करने और आंतरिक सीमा या नियंत्रण रेखा (एलओसी) से आंतरिक इलाकों या पंजाब में हथियार, गोला-बारूद और नशीले पदार्थों के परिवहन से जुड़े किसी व्यक्ति के बारे में कार्रवाई योग्य खुफिया जानकारी देता है और आगे की कार्रवाई के दौरान उक्त खुफिया जानकारी की पुष्टि हो जाती है, उसे 3 लाख रुपये मिलेंगे.

पुलिस ने उन लोगों के लिए 2 लाख रुपये की घोषणा की, जो पाकिस्तान स्थित आतंकवादी आकाओं या जेल में बंद अलगाववादियों से बात करने वाले व्यक्तियों के बारे में सटीक जानकारी देते हैं. अगर जानकारी की जांच के बाद मॉड्यूल का भंडाफोड़ करने में सफलता मिलती है, तो सूचना देने वाले को 2 लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा.

फोटो, पता जैसे व्यक्तिगत विवरण पर भी इनाम

पुलिस की ओर से कहा गया है कि उन लोगों को 2 लाख रुपये प्रदान किए जाएंगे, जो जम्मू-कश्मीर के भीतर रहकर सीमा पार बैठे आतंकी आकाओं के साथ संचार स्थापित करने वालों की फोटो, पता जैसे व्यक्तिगत विवरण देते हैं. कहा गया है कि ऑफ-ड्यूटी पुलिसकर्मियों और अन्य सुरक्षा कर्मियों या सरकारी कर्मचारियों को भी आतंकी निशाना बनाते हैं, अगर इस संबंध में जानकारी शेयर की जाती है और इसकी पुष्टि होती है, तो भी जानकारी देने वाले को 2 लाख रुपये नगद इनाम दिए जाएंगे. पुलिस ने कहा कि मस्जिदों, मदरसों, स्कूलों या कॉलेजों में काम करने वाले ऐसे व्यक्तियों के बारे में जो अलगाववाद को बढ़ावा देते हैं, ऐसे लोगों की जानकारी देने वाले को 1 लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा.

Also Read

First Published : 11 February 2024, 11:51 AM IST