share--v1

Online Cricket Betting: पति ने सट्टेबाजी में गवाएं करोड़ों रुपये, प्रताड़ना का आरोप लगाकर पत्नी ने कर लिया सुसाइड

Online Cricket Betting: ऑनलाइन सट्टेबाजी के खेल आज से समय बड़े खुलेआम खेला जा रहा है. इसमें बहुत से लोगों का हाल बेहाल होता जा रहा है. इसी से जुड़ा ताजा मामला सामने है.

auth-image
India Daily Live

नई दिल्ली: अपने देश में क्रिकेट का खुमार सबके सिर चढ़कर बोलता है. मैच देखने के लिए फैंस हर पड़ाव को पार करने के लिए तैयार रहते हैं. उसी में बहुत से फैंस ऐसे भी हैं जो क्रिकेट पर खूब सट्टा लगाते हैं. जिसमें कुछ लोगों की लॉटरी लग जाती है जबकि बहुत से लोगों का पैसा डूब ही जाता था. वहीं ऑनलाइन के दौर में सट्टेबाजी का मार्केट और तेजी से आगे बढ़ा.

आज के समय में लोग मैच देखने के साथ ही सट्टा भी खूब लगा रहे हैं. इसी वजह से ऑनलाइन सट्टा का धंधा भी खूब चलन में है. इसी के चक्कर में बहुत लोग अपनी जान भी गवां रहे हैं. इसी से जुड़ा मामला हाल में ही सामने आया है.

उधार लेकर चल रहा था सट्टेबाजी का खेल

बेंगलुरु से ऐसी ही एक घटना की जानकारी सामने आ रही है. जहां राज्य के एक सहायक इंजीनियर दर्शन ने ऑनलाइन सट्टेबाजी के तहत मैच के लिए 1.5 करोड़ रुपये का सट्टा लगाया. जिसमें उसका पैसा डूब गया. जिसके बाद उसकी पत्नी ने सुसाइड करके अपनी जान दे दी. हालांकि पत्नी ने आत्महत्या से पहले एक नोट भी लिखा है जिसमें ये बताया गया है कि पति ने जो भी पैसा सट्टेबाजी में लगाए थे वो सभी पैसे उधार लिए गए थे. जिसकी वजह से पैसे वालों की मिल रही रोज की धमकी से उसकी पत्नी ने सुसाइड कर लिया.

तीन आरोपी गिरफ्तार

24 वर्षीय रंजीता 19 मार्च को अपने बेड रूम में मृत पाई गई थीं. वहीं रंजीता के पिता वेंकटेश एम ने इस मामले में 13 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. पैसे दोनों वालों पर आरोप है कि उन लोगो ने कथित तौर पर बकाया पैसा नहीं चुकाने पर परिवार को बदनाम कनरे की धमकी दी थी. इस मामले में पुलिस ने भी तीन आरोपियों की पहचान करके गिरफ्तार कर लिया है. जबकि अन्य आरोपी अभी भी फरार हैं.

अभी भी उधार है 54 लाख रुपये

रंजीता के पिता ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करेत हुए बताया कि उनको संदेह है कि क्रिकेट सट्टेबाजी में दर्शन ने 1.5 करोड़ रुपये गवां दिए थे. हालांकि उसकी अधिकांश राशि चुका दिया गया है. फिर भी लोग परेशान कर रहे थे. जबकि ये भी जानकारी मिल रही है कि अभी भी 54 लाख रुपये उधार थे. 

वेंकटेश ने ये भी बताया कि उनका दामाद निर्दोष है. वो क्रिकेट सट्टेबाजी के लिए कभी इंटरेस्ट नहीं दिखाया था लेकिन उस पर दबाव बनाकर और अमीन बनने का लालच देकर ये खेल खेला गया. दर्शन ने साल 2021 और 2023 के दौरान ऑनलाइन क्रिकेट सट्टेबाजी के तहत ये पैसा लगाया था.

Also Read