menu-icon
India Daily
share--v1

Nuh Violence Update: नूंह में बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था, अभी भी कर्फ्यू जारी, चप्पे-चप्पे पर रखी जा रही कड़ी नज़र

Haryana Nuh Violence: हरियाणा के कई जिलों में इंटरनेट बंद है. हिंसा की आग को रोकने के लिए नूंह और आसपास के क्षेत्रों में भारी संख्या में पुलिस और सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है.

auth-image
Gyanendra Tiwari
Nuh Violence Update: नूंह में बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था, अभी भी कर्फ्यू जारी, चप्पे-चप्पे पर रखी जा रही कड़ी नज़र

नई दिल्ली. Nuh Violence: हरियाणा के नूंह में 31 जुलाई को भड़की हिंसा की आग बुझने का नाम नहीं ले रही है. हिंसा शुरू होने के बाद से ही नूंह के चप्पे-चप्पे पर भारी सुरक्षा बल तैनात है. अभी भी कर्फ्यू जारी है. नूंह समेत 4 जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद हैं.

बीती रात नूंह में दो पक्षों के बीच झड़प की ख़बरे सुनने को मिली. ख़बर ये भी है कि 2 धार्मिक स्थलों पर मोलोटोव कॉकटेल की बोतलें भी फेंकी गईं हैंं. इसी को देखते हुए नूंह में सुरक्षा व्यवस्था बड़ा दी गई है. धारा 144 लागू है. 

यह भी पढ़ें- इस दिन करें सोने की शॉपिंग, घर में आएगी सुख और समृद्धि

6 लोगों की मौत
इस हिंसा में अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है. हरियाणा के 9 जिलों में धारा 144 लागू है. बुधवार को भी कई जगह से हिंसा की ख़बरे आईं. अभी भी हालात बेहद तनावपूर्ण बने हुए हैं. गुरुग्राम और पलवल में भी भारी सुरक्षाबल की तैनाती की गई.

इस हिंसा में होमगार्ड गुरसेवक और नीरज, पानीपत के अभिषेक, नूंह के भादस गांव के शक्ति, गुरुग्राम के इमाम और बादशाहपुर के प्रदीप शर्मा की इस हिंसा में अब तक मौत हो चुकी है. इस हिंसा में अब तक सैकड़ों लोग घायल हो चुके हैं.

हिंसा की आग को देखते हुए नूंह, फरीदाबाद, पलवल और गुरुग्राम में मानेसर, पटोदी व सोहना इलाके में 5 अगस्त तक के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है.

कई लोगो की हुई गिरफ्तारी
ख़बरों की मानें तो पुलिस ने अब तक 43 एफआईआर (FIR) दर्ज की है. और 137 से ज्यादा लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी हैं. पुलिस दंगाइयों को खोज रही है. पुलिस की टीम जांच में जुटी है.

 चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबलों की तैनाती
दंगाइयों ने सरकारी संपत्ति को खूब नुकसान पहुंचाया. सरकारी बसों और गाड़ियों को आग हवाले कर दिया गया. मणिपुर की तरह हरियाणा भी जल रहा है. सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है. चप्पे-चप्पे पर पुलिस और सुरक्षाबल के जवान खड़े हैं.

नुकसान की भरपाई को लेकर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि जिन लोगों ने सरकारी संपत्ति की तोड़फोड़ की है, उन्हीं से ही इसकी भरपाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें- अगर आपकी कुंडली में है शनि देव का प्रकोप तो इन उपायों से मिलेगी मुक्ति