menu-icon
India Daily
share--v1

क्या लालू की बेटी के पोस्ट ने खोली गठबंधन की पोल, नीतीश-लालू की दोस्ती में दरार, फिर भंग होगी विधानसभा!

Bihar Politics: बिहार की राजनीति को लेकर सूत्रों के हवाले से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. जानकारी के अनुसार नीतीश कुमार अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं और विधानसभा भंग करने की भी सिफारिश कर सकते हैं.  

auth-image
Purushottam Kumar
Nitish Kumar

हाइलाइट्स

  • नीतीश कुमार अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं- सूत्र
  • विधानसभा भंग करने की भी सिफारिश कर सकते हैं- सूत्र

Bihar Politics: बिहार की राजनीति को लेकर सूत्रों के हवाले से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. सूत्रों के हवाले से खबर है कि नीतीश कुमार और लालू प्रसाद यादव की राहें एक बार फिर से अलग हो सकती है. मिल रही जानकारी के अनुसार सीएम  नीतीश कुमार अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं और विधानसभा भंग करने की भी सिफारिश कर सकते हैं.  

लालू की बेटी रोहिणी आचार्य का पोस्ट

दरअसल, बुधवार को सीएम नीतीश कुमार ने परिवारवाद पर तंज किया था जिसके बाद लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य का सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म एक्स पर एक पोस्ट कर सीएम  नीतीश पर बिना नाम लिए हमला बोला था. रोहिणी आचार्य ने अपने पोस्ट में लिखा था कि समाजवादी पुरोधा होने का करता वही दावा है हवाओं की तरह बदलती जिनकी विचारधारा है.

वहीं, एक अन्य पोस्ट में उन्होंने लिखा कि खीज जताए क्या होगा जब हुआ ने अपना कोई योग्य विधि का विधान कौन टाले जब खुद की नीयत में ही हो खोट. हालांकि, बाद में उन्होंने अपना पोस्ट हटा लिया था.

Rohini Acharya Post
Rohini Acharya Post

U-टर्न लेने में माहिर हैं नीतीश कुमार, जानें कब किसके साथ रहे

  • 1996 में लोकसभा चुनाव से पहले नीतीश एनडीए का हिस्सा बने 2010 के विधानसभा चुनाव तक साथ रहे.
  • 2012 में नरेंद्र मोदी का कद बढ़ने के बाद नीतीश कुमार एनडीए में असहज होने लगे और 2014 के लोकसभा चुनाव में अकेले चुनाव लड़े
  • लोकसभा चुनाव 2014 में जदयू को सिर्फ 2 सीटों पर जीत मिली जिसके बाद नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री पद छोड़ दिया था.
  • बाद में RJD के साथ महागठबंधन बनाई और 2015 में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सीएम बने. इस दौरान विधानसभा चुनाव में गठबंधन को बड़ी जीत मिली
  • इसके बाद 2017 में IRCTC घोटाले में तेजस्वी यादव का नाम आया और नीतीश कुमार पाला बदला बीजेपी में शामिल हो गए
  • इसके बाद 2022 में नीतीश कुमार ने एक बार फिर पलटी मारी और RJD, कांग्रेस और लेफ्ट के साथ मिलकर सरकार बनाई.