menu-icon
India Daily
share--v1

कौन है सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर Archana Makwana, अचानक सुर्खियों में कैसे आया इनका नाम?

सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर अर्चना मकवाना (Archana Makwana) मुसीबत में फंस चुकी हैं. इन पर एआईआर दर्ज की गई है. योग दिवस के दिन इन्होंने एक वीडियो पोस्ट किया था जिसके वायरल होते ही लोगों ने इनको आड़े हाथ ले लिया. हालांकि अर्चना ने अब माफी मांग ली है लेकिन चलिए जानते हैं कि आखिर क्यों ये इतनी सुर्खियों में हैं?

auth-image
India Daily Live
archana makwana
Courtesy: Social Media

Archana Makwana: सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर अर्चना मकवाना (Archana Makwana) एक बार फिर चर्चा में आ गई हैं. अर्चना के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. दरअसल, योग दिवस वाले दिन अर्चना ने एक वीडियो शेयर किया था जिसमें वह स्वर्ण मंदिर परिसर में योग करती दिखाई दे रही थीं. इस वीडियो के वायरल होते ही यह फंस गई क्योंकि इन पर धार्मिक भावना को भड़काने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई. 

अर्चना का अगर वीडियो ध्यान से देखें तो वह स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) के सरोवर के पास योग कर रही हैं. योग दिवस पर इनके इस वीडियो के शेयर करते ही सोशल मीडिया पर बवाल मच गया. खबरों की मानें तो अर्चना मकवाना के खिलाफ IPC की धारा  295-A के तहत केस दर्ज किया गया है. 

कौन है अर्चना मकवाना?

अर्चना मकवाना जब ये योग वीडियो बना रही थी तो उनको ऐसा करने के लिए रोका गया था लेकिन फिर भी उन्होंने वीडियो बनाया. ये योग वीडियो श्रीदरबार साहिब के परिक्रमा के पास का है जहां पर उस दिन जितने सेवादर ड्यूटी पर तैनात थे उन सबको  दिन ड्यूटी पर तैनात तीन सेवादारों को सस्पेंड कर दिया गया. साथ ही इन तीनों पर कार्रवाई शुरू की गई है.

अर्चना पर एफआईआर दर्ज करते हुए ये कहा गया कि यहां लोग माथा टेकने आते हैं और ये योग कर रही है जो कि लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना है. जब इसको लेकर विवाद शुरू हुआ तो अर्चना ने लोगों से माफी मांगी. इन्होंने माफी मांगते हुए लिखा- '19 जून को दिल्ली अवॉर्ड लेने आई थी. मैंने सोचा कि अमृतसर जाकर मत्था टेक लेती हूं. उसी दिन योग दिवस था तो मैंने थैंक्यू के रूप में शीर्षासन कर दिया लेकिन इससे मैं किसी भावना को आहत नहीं करना चाहती थी. मैं ऐसा बिल्कुल नहीं करूंगी.'