share--v1

Gupt Navratri Upay: गुप्त नवरात्रि पर कर लें ये उपाय, पूरी होंगी सारी मनोकामनाएं

Gupt Navratri Upay: 10 फरवरी से गुप्त नवरात्रि की शुरुआत हो रही है. मान्यता है कि इस दिन कुछ आसान से उपायों को करने से जीवन की सभी मनोकामनाएं पूरी हो सकती हैं. 

auth-image
Mohit Tiwari
फॉलो करें:
Courtesy: pexels

Gupt Navratri Upay: गुप्त नवरात्रि में मां आदिशक्ति की 10 महाविद्याओं का पूजन किया जाता है. माघ माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से गुप्त नवरात्रि की शुरुआत हो रही है. तंत्र-मंत्र के साधक गुप्त नवरात्रि पर माता दुर्गा की विशेष साधना करते हैं. इस नवरात्रि में की जाने वाली पूजा और मनोकामना को गुप्त रखा जाता है. ज्योतिष शास्त्र में गुप्त नवरात्रि के महत्व के साथ ही उपाय भी बताए गए हैं. मान्यता है कि गुप्त नवरात्रि पर अगर कोई इन उपायों को करता है तो उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं. जीवन में सभी कष्टों को दूर करने के लिए आदिशक्ति की पूजा विशेष रूप से फलदाई होती है. 

गुप्त नवरात्रि पर करें ये उपाय

  • सुख और समृद्धि में वृद्धि के लिए गुप्त नवरात्रि में पूरे नौ दिन तक माता दुर्गा के सामने घी का दीपक जलाएं. इसके साथ ही मां को लाल पुष्प और कोई चांदी की वस्तु अर्पित करें. ऐसा करने से जीवन में सफलता, खुशी, समृद्धि, आनंद और प्रेम में वृद्धि होती है. 
  • हर रोज रात्रि मां आदिशक्ति की पूजा अर्चना करें. नवरात्रि के पहले दिन 9 गोमती चक्र लेकर मां के पास रख दें. नवरात्रि के अंतिम दिन लाल कपड़े में बांधकर धन के स्थान जैसे अलमारी या फिर तिजोरी में रख दें. ऐसे में धन और धान्य में वृद्धि होती है. 
  • गुप्त नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के 12वें अध्याय का 21 बार पाठ करें. इसके साथ ही मां की लौंग के साथ आरती करें. नवरात्रि के अंतिम दिन दुर्गा मंदिर में लाल रंग झंडा अर्पित करें. इससे नौकरी और व्यापार में उन्नति होती है. 
  • परिवार में सुख-शांति के लिए गुप्त नवरात्रि के दौरान रात में मां आदिशक्ति के सामने घी का दीपक जलाएं और मां को सिंदूर अर्पित करें. इसके बाद नौ बताशों में दो लौंग रखकर माता को अर्पित करें. 
  • जीवन के सभी कष्टों से मुक्ति पाने के लिए नवरात्रि के दौरान रात के समय माता दुर्गा की कपूर और लौंग से आरती करें. इसके साथ ही 'सब नार करहिं परस्पर प्रीति चलहिं स्वधर्म निरत श्रुति नीति' इस मंत्र का प्रतिदिन 21 बार जाप करें.
  • गुप्त नवरात्रि के 9 दिन हवन करें. इस दौरान घी में कमलगट्टों को भिगोकर दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हुए आहुति दें. नवरात्रि के अंतिम दिन (महनंदा नवमी) पर नौ कन्याओं को भोजन कराएं और उन्हें दक्षिणा दें. ऐसा करने से माता दुर्गा का आशीर्वाद बना रहता है. 

Disclaimer : यहां दी गई सभी जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. theindiadaily.com  इन मान्यताओं और जानकारियों की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह ले लें. 

Also Read

First Published : 09 February 2024, 09:42 PM IST