menu-icon
India Daily
share--v1

'स्वाति मालीवाल के बाद राघव चड्ढा से मांगा गया था इस्तीफा...', मनीष कश्यप ने किया बड़ा दावा

auth-image
India Daily Live

लोकसभा चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा खूब चर्चाओं में रहे. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के जेल जाने के बावजूद वह विदेश से नहीं लौटे. ऐसे में यह भी कहा जाने लगा था कि वह बीजेपी के संपर्क में हैं. फिर स्वाति मालीवाल से मारपीट के मामले की गहमागहमी के बीच राघव लौट आए और सीधे अरविंद केजरीवाल से मिलने पहुंचे. अब बीजेपी नेता मनीष कश्यप ने दावा किया है कि AAP के नेताओं ने पहले स्वाति मालीवाल से राज्यसभा सीट छोड़ने को कहा, जब वह नहीं मानीं तो राघव चड्ढा से कहा गया कि वह इस्तीफा दे दें.

मनीष कश्यप ने कहा, 'जब राघव से इस्तीफा से मांगा गया तो उन्होंने भी इनकार कर दिया. इसी बीच परणीति चोपड़ा उन्हें लेकर लंदन चली गईं. इस बीच अरविंद केजरीवाल ने उन्हें कहा कि आप आकर इस्तीफा दीजिए, हमें अभिषेक मनु सिंघवी को राज्यसभा भेजना है. इस पर राघव चड्ढा ने कह दिया कि वह अपनी आंख का इलाज करा रहे हैं और इलाज के बाद ही लौट आएंगे. इसके बाद भगवंत मान को बलि का बकरा बनाने की कोशिश की गई कि वह सीएम पद से इस्तीफा दे दें और राघव चड्ढा को सीएम बनाया जाए.'

राघव चड्ढा के बीजेपी में जाने की अफवाहों पर मनीष कश्यप ने कहा, 'उसके बारे में हमारी शीर्ष नेतृत्व फैसला करेगा, मैं इस पर कुछ टिप्पणी नहीं करना चाहूंगा.' बता दें कि जब राघव चड्ढा लंदन से नहीं लौट रहे थे, तब बार-बार कहा जा रहा था कि वह बीजेपी के संपर्क में हैं और गिरफ्तारी के डर से विदेश में हैं. हालांकि, अब राघव चड्ढा लौट आए हैं और पहले की तरह ही AAP के लिए सक्रिय हो गए हैं.