menu-icon
India Daily
share--v1

अगर फाइनेंशियल प्लानिंग में कर दी ये 4 गलती तो कंगाली में बीत सकता है आपका रिटायरमेंट

Financial Mistakes in Planning: आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में पैसा कमाना जितना जरूरी है, उतना ही जरूरी है उसका समझदारी से इस्तेमाल करना. कई बार हम कुछ ऐसी वित्तीय गलतियां कर बैठते हैं जिनका हमारे भविष्य पर बुरा असर पड़ता है.

auth-image
India Daily Live
Financial Planning

Financial Mistakes in Planning: आजकल महंगाई बढ़ती जा रही है, ऐसे में पैसा बचाना और जिम्मेदारी से खर्च करना बहुत जरूरी हो गया है. अगर आप भी कोई जॉब या बिजनेस करते हैं और चाहते हैं कि आप आर्थिक रूप से मजबूत रहें, तो कुछ ऐसी वित्तीय गलतियां हैं जिनसे आपको बचना चाहिए.

इमरजेंसी फंड तैयार न करना (Emergency Fund)

अगर आपने अभी तक आपने इमरजेंसी फंड के लिए सेविंग्स करना नहीं शुरू किया है तो यह गलती आपको रिटायरमेंट के बाद भारी पड़ सकती है. इमरजेंसी फंड एक ऐसा फंड है जो फाइनेंशियल इमरजेंसी कि लिए तैयार किया जाता है. यह फंड आप एक्सीडेंट या बीमारी के लिए भी यूज कर सकते हैं. यह फंड आपको कर्ज लेने से भी बचाता ही है. यह फंड आपकी इनकम और आपके महीने के खर्चों पर डिपेंड करता है इसमें कम से कम 6 महीने की इनकम के बराबर होना चाहिए.

रिटायरमेंट फाइनेंशियल प्लानिंग को इग्नोर करना (Retirement Planning)

अगर आपकी ब‍िना बजट बनाए खर्च करने की आदत है तो यह आपको बाद में परेशान कर सकती है. अगर आप रिटायरमेंट प्लानिंग करते हैं तो आप अपने खर्चों को और हर महीने के बजट को भी मैनेज कर पाएंगे. एक स्‍मार्ट रिटायरमेंट प्लानिंग आपको भविष्य में आर्थिक तंगी से नहीं गुजरना पडेगा. इस लक्ष्य के लिए जितनी जल्दी हो सके अपने निवेश की शुरुआत कर दें. कई लोग जब नौकरी करना शुरू करते हैं तो रिटायरमेंट के लिए निवेश को टालते रहते हैं. तब युवाओं को ऐसा लगता है कि रिटायमेंट की प्लानिंग बाद में भी की जा सकती है. अगर आप भी यह सोच रहे हैं तो आज ही गलती को सुधारने के लिए रिटायमेंट के लिए फाइनेंशियल प्लानिंग शुरू कर दें.

स्मार्ट बजट न बनाना (Smart Budget)

अगर आप फालतू के खर्च करते रहते हैं और महीने के अंत तक आपकी सैलरी नहीं बचती है तो याद रखें कि स्मार्ट बजट आपकी इस टेंशन को दूर कर सकता है. इस बात को याद रखें कि अगर आप रिटायर होते हैं तो आपके लिए पैसों की बचत कर पाना बहुत मुश्किल होगा. अगर आपको अपने भविष्‍य को सिक्‍योर करना है, तो आज से ही स्मार्ट बजट बनाएं और उसे फॉलो करके ही हर माह पैसे खर्च करें. इससे न सिर्फ आपकी सेविंग्स होंगी बल्कि आप फिजूलखर्ची करने से भी बच जाएंगे.

खर्चों को कंट्रोल करें (Expense Control)

अक्सर कमाई करने वाले युवा अपने खर्चों पर कोई कंट्रोल नहीं कर पाते हैं लेकिन स्मार्ट स्पेंडिंग आपके खर्चे को कंट्रोल कर सकती है. जब भी आपकी सैलरी आए तो सबसे पहले सेविंग के लिए पैसे अलग कर दें. हर किसी को अपनी सैलरी का कम से कम 15 से 20 प्रतिशत बचाना चाहिए. आप भी अपनी इनकम का इतना हिस्‍सा बचत के नाम पर अलग करें और इस रकम को किसी स्‍कीम में निवेश कर दें. अगर आपके खर्चे अधिक हैं तो जो खर्चे जबरन शो ऑफ वाले हैं, उन्‍हें कम करने का प्रयास करें.