share--v1

Chinese Maglev Train: चीन का नया कारनामा! 623 kmph की रफ्तार से दौड़ा दी ट्रेन, अब हेलीकॉप्टर की स्पीड से आगे जाने का लक्ष्य

चाइना एयरोस्पेस साइंस एंड इंडस्ट्री कॉरपोरेशन (CASIC) ने खुलासा किया है कि उसकी लेटेस्ट मैग्नेटिकी लेविटेटेड (Maglev) ट्रेन ने अक्टूबर 2023 को टेस्टिंग के दौरान 387 मील प्रति घंटे से अधिक की रिकॉर्ड-ब्रेक स्पीड हासिल की.

auth-image
India Daily Live

Chinese Maglev Train: चीन ने दावा किया है उसने एक ऐसी मैग्लेव ट्रेन का परीक्षण किया है जो 623 किलो मीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने में सक्षम है. उसने कहा कि अब उसका लक्ष्य एक ऐसी ट्रेन बनाना है जो हेलीकॉप्टर से भी तेज गति से दौड़ सके. अगर चीन का दावा सही है तो यह दुनिया की सबसे हाई स्पीड ट्रेन होगी.

चाइना एयरोस्पेस साइंस एंड इंडस्ट्री कॉरपोरेशन (CASIC) ने खुलासा किया है कि उसकी लेटेस्ट मैग्नेटिकी लेविटेटेड (Maglev) ट्रेन ने अक्टूबर 2023 को टेस्टिंग के दौरान 387 मील प्रति घंटे (623 किलोमीटर प्रति घंटे) से अधिक की रिकॉर्ड-ब्रेक स्पीड हासिल की. इस स्पीड ने सुपरकंडक्टिंग मैग्लेव वाहनों के लिए एक नया मील का पत्थर स्थापित कर दिया है, जिससे यह अब तक की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन बन गई है. 

अब जहाज की गति से आगे निकलने की योजना
CASIC ने कहा कि वह एक ऐसी ट्रेन बनाना चाहता है जो इससे तीन गुना से भी अधिक तेज हो, इसका लक्ष्य ध्वनि अवरोध को तोड़ना और हवाई जहाज की गति को पार करना है. इससे पहले ऐसे ही एक समान परीक्षण में Maglev ट्रेन ने 380 मीटर की पटरी पर 145 मील प्रति घंटे (234 किलोमीटर प्रति घंटे) की रफ्तार हासिल की थी. Maglev ट्रेनों के लिए आवश्यक उच्च गति प्राप्त करने के लिए घर्षण को कम करना महत्वपूर्ण है.

साउथ चाइन मॉर्निंग पोस्ट की खबर के अनुसार,  इस ट्रेन की टेस्टिंग के अगले चरण में सीएएसआईसी की योजना टैक को 37 मील (60 किमी) तक बढ़ाने और ट्रेन को 621 मील प्रति घंटे (1000 किमी प्रति घंटे) तक की गति देने की है. अगर ऐसा संभव होता है तो मैग्लेव ट्रेन की स्पीड अधिकांश यात्री जेटों की तुलना में तेज हो जाएगी जो आम तौर पर 575 और 600 मील प्रति घंटे (925 और 966 किमी प्रति घंटे) की गति से उड़ान भरते हैं. परीक्षण के पहले चरण की सफलता CASIC की मैग्लेव परियोजना के लिए एक बड़ा कदम है.
 

Also Read