share--v1

बिना नेटवर्क और इंटरनेट के भी फोन से भेज पाएंगे Messages, कमाल है ये फीचर!

Google Messages पर जल्द ही एक नया फीचर पेश किया जा सकता है. यह सैटेलाइट मैसेजिंग सपोर्ट है जिसके तहत आप बिना इंटरनेट और नेटवर्क के भी मैसेज भेज पाएंगे. 

auth-image
India Daily Live

Google पिछले कुछ समय से अपने मैसेज ऐप में सैटेलाइट मैसेजिंग सपोर्ट जोड़ने को लेकर काम कर रहा है. एक नई रिपोर्ट के अनुसार इस फीचर पर काम किया जा रहा है. सैटेलाइट कनेक्टिविटी के साथ Google Messages टू-वे कम्यूनिकिशेन की सर्विस पेश करेगा जिससे लोग मोबाइल नेटवर्क या इंटरनेट कनेक्टिविटी के बिना ही एक-दूसरे से बात कर पाएंगे. इससे पहले एक रिपोर्ट सामने आई थी जिसमें बताया गया था कि कंपनी AI चैटबॉट Gemini को इंटीग्रेट कर Google Messages का एक बीटा वर्जन पेश कर रही है. 

Google का नया मैसेज फीचर: Google Messages के तहत सैटेलाइट मैसेजिंग सर्विस को लेटेस्ट बीटा वर्जन 20240329_01_RC00 में देखा गया है. इस फीचर के तीन अलग-अलग वर्जन देखे गए हैं जिनमें अलग-अलग कोड स्ट्रिंग्स हैं. पहले में कहा गया है, "मैसेज भेजने और रिसीव करने के लिए बाहर रहें जहां साफ आसमान हो. दूसरे ने बताया है, "सैटेलाइट मैसेज भेजने में ज्यादा समय लग सकता है और इसमें फोटो और वीडियो नहीं जा पाएंगे." तीसरा सबसे दिलचस्प है जिसमें कहा गया है, "आप इमरजेंसी सर्विसेज समेत किसी को भी मैसेज कर सकते हैं." 

इससे यह पता चलता है कि अगर यह सर्विस इनेबल है तो यूजर्स अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में किसी को भी टेक्स्ट कर सकते हैं. यह फीचर Apple iPhone में दिए गए फीचर से अलग है क्योंकि इसमें केवल इमरजेंसी में ही मैसेज भेजा जा सकता है. 

रिपोर्ट में बताया गया है कि इसके लिए कंपनी ने जीपीएस नेविगेशन दिग्गज गार्मिन के साथ साझेदारी की है. हालांकि, यह क्लियर नहीं है कि एंड्रॉइड 15 को आधिकारिक तौर पर कब तक पेश किया जाएगा. लेकिन कहा जा रहा है कि इसे जल्द ही यूजर्स के लिए उपलब्ध कराया जा सकता है. Google Messages के फीचर्स पर लगातार काम किया जा रहा है. एक रिपोर्ट में कहा गया है कि मैसेजिंग ऐप अपने इमेज-शेयरिंग इंटरफेस में सुधार पर काम कर रहा है. 

Also Read