menu-icon
India Daily
share--v1

'4 दिन का थैंक्यू प्लान...', UP में अब क्या करने जा रही है कांग्रेस पार्टी?

Congress Dhanyawad Yatra: यूपी में सपा-कांग्रेस के गठबंधन ने लोकसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन किया. इस बार इस गठबंधन को 43 सीटें मिली. वहीं, बीजेपी को 33 सीटें ही मिल पाई.

auth-image
India Daily Live
Congress Dhanyawad Yatra
Courtesy: Social Media

Congress Dhanyawad Yatra: लोकसभा चुनाव के नतीजों से सभी पार्टियां खुश हैं. कांग्रेस ने इस बार अच्छा प्रदर्शन किया है. खासकर उत्तर प्रदेश में. यूपी में इस बार भाजपा को तगड़ा झटका लगा है. इस बार यूपी में बीजेपी को 33 ही मिली.  यूपी में सबसे ज्यादा सीटें कांग्रेस-सपा गठबंधन ने जीती है. परिणाम से गदगद कांग्रेस पार्टी राज्य में धन्यवाद यात्रा निकालेगी.  कांग्रेस पार्टी ने ऐलान किया है कि वह 11 जून से लेकर 15 जून तक प्रदेश की सभी 403 विधानसभा सीटों पर धन्यवाद यात्रा निकालेगी.

धन्यवाद यात्रा के जरिए कांग्रेस जनता का आभार जताएगी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के संदेश को भी जनता तक पहुंचाया जाएगा. इस बात की जानकारी कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव और प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडेय की ओर से दी गई है.

'जनता ने निभाई अपनी जिम्मेदारी'

मीडिया को संबोधित करते हुए अविनाश पांडेय ने कहा कि हमने लोकसभा चुनाव के परिणाम की समीक्षा की. हमने उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़कर 6 में जीत हासिल की. हमने सपा के साथ गठबंधन करके कुल 43 सीटें जीती हैं.

उन्होंने कहा कि संविधान पर मंडरा रहे खतरे को उत्तर प्रदेश की जनता ने महसूस किया और अपनी जिम्मेदारी को बखूबी तरीके से निभाया.

2027 के विधानसभा की तैयारी में जुटी कांग्रेस   

उन्होंने बताया कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का असर लोकसभा चुनाव में देखने को मिला. उनकी यात्रा से जनता कांग्रेस से जुड़ी. उन्होंने बताया कि कांग्रेस की बैठक में हमने उत्तर प्रदेश में होने वाले 2027 के विधानसभा चुनाव को लेकर भी चर्चा की है.  हम भले ही केंद्र में नहीं है लेकिन हम किसानों के खिलाफ अन्याय को नहीं सहेंगे. हम किसानों और युवाओं के लिए संघर्ष करते रहेंगे.   

10 साल बाद लोकसभा को मिलेगा नेता प्रतिपक्ष

इस बार के लोकसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है. एनडीए गठबंधन सरकार बना रही है. 9 जून को नरेंद्र मोदी तीसरी बार पीएम पद की शपथ लेंगे. दूसरी ओर 10 साल बाद लोकसभा को नेता प्रतिपक्ष मिलेगा. कांग्रेस वर्किंग कमेटी ने राहुल गांधी को नेता विपक्ष बनाने का प्रस्ताव पास किया है. खबर लिखे जाने के बीच कांग्रेस के संसदीय दल की बैठक भी चल रही है. इस बैठक में लोकसभा के नेता विपक्ष के लिए राहुल गांधी के नाम पर अंतिम मुहर भी लग सकती है.