menu-icon
India Daily
share--v1

बरेली To बदायूं के लिए खरगोश ने चुकाए 150 रुपये, टिकट काटने वाले कंडक्टर पर हुआ ये एक्शन

Bareilly To Budaun: बरेली की बर्फी और बरेली का झुमका तो आपने सुना ही होगा. यहां और भी कई चीजें मशहूर हैं जिनकी समय-समय पर चर्चा होती रहती है. हालांकि, इन दिनों खरगोश के टिकट कटने की चर्चा हो रही है. रोडवेज बस परिचालक ने खरगोश के के भी टिकट काट दिए. हालांकि, खरगोश मालिक की शिकायत के बाद उसे सस्पेंड कर दिया गया है.

auth-image
India Daily Live
bareli news
Courtesy: India Daily Live

Bareilly To Budaun: आपने रोडवेज की बसों में सफर तो कभी न कभी किया ही होगा. जाहिर है इसके लिए टिकट के पैसे चुकाने पड़ते हैं. कई बार आप अपने साथ गोद में रखने वाले छोटे बच्चे या कई बार पालतू छोटे पक्षी और पशु लेकर भी लोगों को सफर करते देखा होगा. लेकिन, तब क्या हो जब इनका टिकट कटने लगे. ऐसा ही है उत्तर प्रदेश के बरेली में जहां एक खरगोश को बदायूं तक का सफर करने के लिए 150 रुपये चुकाने पड़े. वो भी तब जब सरकार ने एक टिकट की कीमत 75 रुपये तय कर रखी है.

मामला बरेली डिपो की रोडवेज बस का है. पारस अग्रवाल नाम का लड़का बरेली से खरगोश खरीदकर पिंजरे में उसे लेकर जा रहा था. तभी कंडक्टर ने 75-75 रुपये के दो टिकट काट दिए. हालांकि, पारस की शिकायत के बाद परिचालक को सस्पेंड कर दिया गया है.

खरगोश का 150 रुपये का टिकट

बदायूं का रहने वाला पारस अग्रवाल बरेली गया था. यहां उसे खरगोश पसंद आ गया. वो उन्हें लेकर अपने घर लौटने के लिए बरेली डिपो की बस में बैठ गया. रास्ते में टिकट देखने के लिए कंडक्टर उसकी सीट पर पहुंच गया. यहां पारस पारस का 75 रुपये का टिकट काट दिया और उससे कहा कि खरगोश ले जाना है तो इसके दो टिकट कटवाने पड़ेंगे. मजबूरन लड़के ने 75-75 रुपये के दो टिकट यानी 150 रुपये का टिकट खरगोश के लिए कटाया.

क्यों बिगड़ गई बात?

बताया जा रहा है बस में कई लोग अपना सामान लेकर चढ़े थे. उनसे कंडक्टर ने सामान का भी पैसा लिया लेकिन उनको कोई टिकट नहीं दिया. ऐसा ही एक यात्री फर्नीचर लेकर सफर करने पहुंचा था. उससे 450 रुपये लिए गए लेकिन मांगने पर टिकट नहीं दिया गया. जब पारस ने इसका विरोध किया तो कंडक्टर भड़क गया और उसके खरगोश का भी टिकट काट दिया. जबकि, उसने खरगोश के पिंजरे को गोद में रख लिया था.

शिकायत पर हुआ एक्शन

युवक ने मामले की शिकायत बरेली डिपो के रीजनल मैनेजर को टैग करते हुए सोशल मीडिया पर की. देखते ही देखते लोग कूद पड़े और इसपर जमकर कमेंट होने लगे. इसमें कंडक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई. बाद में RM ने एक्शन लेते हुए कंडक्टर को सस्पेंड कर दिया. उन्होंने बताया कि छोटे जानवरों, खासकर जो पिंजरे में है उनके लिए मात्र एक टिकट का प्रावधान है. कंडक्टर ने दो टिकट काटे और उसके खिलाफ शिकायतें भी मिलीं. इस कारण एक्शन लिया जा रहा है.